Breaking News

दंगे की रिपोर्ट को सार्वजनिक करे सरकार

नई दिल्ली ()। बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने मुजफ्फरनगर दंगे की रिपोर्ट को सार्वजनिक करने की मांग की है। उन्होंने कहा है कि सपा शासननकाल में अगस्त 2013 में भीषण साम्प्रदायिक दंगे हुए, जिसमें काफी जान-माल की हानि हुई थी। इसकी जांच कर रहे पू्र्व जस्टिस विष्णु सहाय आयोग की रिपोर्ट को तत्काल सार्वजनिक किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि इंसाफ व क़ानून के राज की हर जगह व हर स्तर पर हमेशा यह मांग रहती है कि दोषियों को समय पर सख़्त से सख़्त सज़ा दी जाये।

मायावती ने अपने बयान में कहा है कि वैसे तो समाजवादी पार्टी की सभी हुकूमतों के दौरान उत्तर प्रदेश में भीषण साम्प्रदायिक दंगे होते रहे हैं और लोगों की व्यापक जान-माल की हानि होती रही है, लेकिन मुजफ्फरनगर दंगा, जो कि बाद में पश्चिमी उत्तर प्रदेश के अन्य जिलों शामली, मेरठ व सहारनपुर तक में भी फैल गया गया था। सपा सरकार की घोर लापरवाही व अकर्मन्यता के साथ-साथ भाजपा से उसकी मिलीभगत के कारण यह काफी बड़ा रुप ले लिया था। इसकी वजह से काफी बड़े पैमाने पर मुस्लिम समाज के लोगों का पलायन भी हुआ था और जो आजतक विस्थापित हैं। इतना ही नहीं बल्कि सरकारी ज़मीन पर शरण लेने वाले हज़ारों लोगों पर इस सपा सरकार ने बुलडोजर तक चलवा कर उन्हें बेघर व बेआसरा छोड़ दिया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *