पंचायत भवन पर बन रहे आयुष्मान कार्ड, 5 लाख तक होगा फ्री इलाज, अभी उठाएं लाभ

पंचायत सहायकों को दी गई है पात्र लाभार्थियों की सूची

 

स्टार एक्सप्रेस/ संवाददाता

सुलतानपुर. आयुष्मान भारत योजना के पात्र लाभार्थियों को जल्द से जल्द आयुष्मान कार्ड (Golden Card) उपलब्ध कराने के लिए स्वास्थ्य विभाग प्रयासरत है। इसी क्रम में मुख्य विकास अधिकारी अतुल वत्स के निर्देशन में ग्रामीण क्षेत्रों के लाभार्थियों को पंचायत भवन पर ही पंचायत सहायकों के सहयोग से आयुष्मान कार्ड उपलब्ध कराये जा रहे हैं।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. धर्मेन्द्र कुमार त्रिपाठी ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रों के आयुष्मान योजना के पात्र लाभार्थी पंचायत भवन जाकर भी अपना कार्ड बनवा सकते हैं। इसके लिए जिला पंचायतीराज अधिकारी आर.के. भारती के सहयोग से प्रथम चरण में जिले के 191 ग्राम पंचायतों के सहायकों को पहले ही प्रशिक्षण दिया जा चुका है। सभी प्रशिक्षित सहायकों को आयुष्मान पोर्टल पर आई.डी. व पासवर्ड भी दिया गया है।

लाभार्थियों को पंचायत भवन तक लाने के लिए आशा और संगिनी को दी गई है जिम्मेदारी

प्रशिक्षण के बाद सभी पंचायत सहायक आयुष्मान कार्ड बनाने में कंप्यूटर ऑपरेटर की भूमिका निभा रहे हैं। किसी भी तकनीकी समस्या के लिए सम्बंधित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के आयुष्मान मित्र सहयोग कर रहे हैं। आशा और संगिनी को आयुष्मान योजना के पात्र लाभार्थियों को प्रेरित कर पंचायत भवन तक लाने की ज़िम्मेदारी दी गई है।

पंचायत सहायकों को दी गई है पात्र लाभार्थियों की सूची

जिला इन्फॉर्मेशन सिस्टम मैनेजर दुर्गेश नंदन ने बताया कि प्रथम चरण में जिले की 191 ग्राम पंचायतों को लिया गया है। सभी पंचायतों के सहायकों को योजना के पात्र लाभार्थियों की सूची दी गई है।

इन ग्राम पंचायतों में बन चुके हैं शत प्रतिशत गोल्डेन कार्ड

दुर्गेश ने बताया कि पात्र लाभार्थियों की सूची के अनुसार जिले की छह ग्राम पंचायतों को पूरी तरह से आच्छादित किया जा चुका है। इसमें ब्लॉक बल्दीराय की ग्राम पंचायत डीह, मोतिगरपुर की मुड़हा एवं पहाड़पुर सराय भीखमपुर और दुबेपुर की ग्राम पंचायत उतुरी, लोहरामऊ एवं भुलकी शामिल हैं। ग्राम पंचायतों के पंचायत सहायकों द्वारा 1 जून 2022 से अब तक 3106 कार्ड बनाये जा चुके हैं। जिला स्तर पर अब तक 105104 परिवारों के 246847 सदस्यों का आयुष्मान कार्ड बनाया गया है।

5 लाख तक होगा फ्री इलाज

गौरतलब है कि आयुष्मान योजना के पात्र लाभार्थी कार्ड बनाने के बाद प्रति लाभार्थी परिवार पांच लाख रुपये सालाना तक का स्वास्थ्य बीमा दिया जाता है। पात्र लाभार्थी आयुष्मान योजना से सम्बद्ध सभी सरकारी चिकित्सालयों, पंचायत भवन, कॉमन सर्विस सेंटर और समय-समय पर आयोजित होने वाले आयुष्मान कैंप में जाकर अपना कार्ड बनवा सकते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button