Breaking News

भारतीय विमान नियामक डीजीसीए ने दिये यह आदेश 

भारतीय विमानन नियामक डीजीसीए ने इंडिगो  गोएयर को अपने विमानों के इंजनों की जांच करने  उनमें आ रही समस्या को अच्छा करने के आदेश दिए हैं. माना जा रहा है कि ये आदेश इंडोनेशिया में हुए विमान हादसे को ध्यान में रखकर दिए गए हैं. डीजीसीए ने इंडिगो  गोएयर को 15 प्रैट एंड व्हिटनी इंजनों में समस्या को लेकर आदेश जारी किया है, जो इन दोनों कंपनियों के ए-320 नियो विमानों में लगे हुए हैं.

Image result for भारतीय विमानन नियामक डीजीसीए ने दिये यह आदेश 

बता दें कि प्रैट एंड व्हिटनी इंजनों में समस्या के चलते इन दोनों कंपनियों को इस वर्ष के प्रारम्भ में भी अपने 82 विमानों को उड़ान भरने से रोकना पड़ा था. नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने तब अपने अमेरिकी समकक्ष फेडरल एविएशन एडमिनिस्ट्रेशन (एफएए) की तरफ से जारी की गई एडवाइजरी के आधार पर इन विमानों को रोका था.

एफएए ने प्रैट एंड व्हिटनी के इंजनों में हाई प्रेशर कंप्रेशर फ्रंट हब कॉरिसन को बदले जाने की जरूरत जताई थी. इंडिगो के 13 विमान  गोएयर के 2 विमानों के इंजन इसके दायरे में आ रहे हैं. दोनों कंपनियों को इसमें सुधार के लिए 12 दिसंबर तक का समय दिया गया है.

सूत्रों ने ये भी बताया कि डीजीसीए ने जेट एयरवेज  स्पाइसजेट को भी उनके 6 बोइंग-737 मैक्स विमानों में एक सेंसर को लेकर जांच के लिए सतर्क किया है. ये वैसे ही बोइंग विमान हैं, जैसा पिछले महीने के अंत में इंडोनेशिया के समुद्र में गिर गया था. उस हादसे में 180 लोग मारे गए थे. हालांकि इन दोनों कंपनियों को आदेश दिए जाने की पुष्टि नहीं हो सकी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *