अखिलेश के सपनों पर ग्रहण, बंगले के बाद अब यहां लगा झटका

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की मुश्किलें बढ़ती नजर आ रही है। इस बार अखिलेश यादव हजरतगंज विक्रमादित्य मार्ग पर बन रहे होटल को लेकर विवादों में घिर गए हैं।

इस होटल को लेकर कोर्ट में दाखिल की गई याचिका पर शनिवार को हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने सुनवाई की। कोर्ट ने मामले का स्वतः संज्ञान लेते हुए फिलहाल होटल के निर्माण पर रोक लगा दी है और याचिका दाखिल करने वाले अधिवक्ता शिशिर चतुर्वेदी को सुरक्षा मुहैया कराने के आदेश दिए हैं।

अगली सुनवाई 5 सितंबर को

मामले की सुनवाई करते हुए कोर्ट ने राज्य सरकार से जवाब मांगा है कि VVIP Highsecurity Zone में होटल निर्माण की इजाजत किस अधिकारी ने दे दी? इस मामले की अगली सुनवाई 5 सितंबर को होगी।

मालूम हो कि याचिकाकर्ता अधिवक्ता शिशिर चतुर्वेदी ने इस संबंध में कोर्ट में याचिका दाखिल की थी। इस मामले में अखिलेश यादव, उनकी पत्नी सांसद डिंपल यादव, पिता मुलायम सिंह यादव, जनेश्वर मिश्र ट्रस्ट समेत कुल 13 लोगों को पार्टी बनाया गया है।

याचिकाकर्ता ने आरोप लगाया है कि उन पर PIL वापस लेने का दबाव बनाया जा रहा है। जानकारी के मुताबिक अखिलेश यादव ओर डिंपल यादव ने होटल के नक्शे को लेकर लखनऊ विकास प्राधिकरण में आवेदन किया है।

फोटो- फाइल।।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button