Breaking News

स्त्रियों को मंदिर में दर्शन करने की इजाजत मिलने पर विरोध, कैमरामैन घायल

सबरामीला मंदिर के कपाट खुलने के बाद विरोध प्रदर्शन प्रारम्भ हो गया है. केरल के पथानमिट्टा में मंगलवार को एक महिला मंदिर पहुंची जिसके बाद प्रदर्शनकारियों ने उससे उसकी आयु पूछी. इस महिला की बाद में पहचान ललिता के तौर पर हुई. उसने दावा किया कि वह 50 वर्ष से ज्यादा की है लेकिन प्रदर्शकारियों ने बोला कि वह झूठ बोल रही है. उसपर अपना आधार कार्ड दिखाने के लिए दवाब डाला गया. पुलिस ने बोला कि वह 52 वर्ष की है.
Image result for स्त्रियों को मंदिर में दर्शन करने की इजाजत मिलने पर विरोध, कैमरामैन घायल

 महिला की मंदिर के अंदर जाने की प्रयास बेकार रही  उसे पुलिस कैंप में भेज दिया गया. प्रदर्शनकरियों ने बाद में उससे माफी मांगी  उसे ईश्वर अयप्पा के दर्शन करवाने के लिए लेकर गए. अमृता टीवी का कैनरामैन इस प्रदर्शन में घायल हो गया. सोमवार शाम को सबरीमाला मंदिर के कपाट एक विशेष प्रार्थना के लिए खोले गए थे. इस बीच मंदिर के आस-पास भारी मात्रा में पुलिसबलों की तैनाती की गई है जिसमें महिला ऑफिसर भी शामिल हैं.

पिछले महीने प्रदर्शनकारियों ने स्त्रियों को मंदिर में दर्शन करेन की इजाजत मिलने पर बहुत ज्यादा विरोध किया था. उच्चतम न्यायलय ने सबरीमाला मंदिर के दरवाजे को हर आयु की महिला के लिए खोलने का आदेश दिया था. जिसका बहुत से लोग विरोध कर रहे हैं. मंगलवार को त्रावणकोर के आखिरी राजा चिथिरा थिरुनल बलराम वर्मा के जन्मदिवस के मौके पर विशेष पूजा ‘श्री चित्रा अट्टा थिरुनल’ के लिए खुलेंगे. इस बीच, कई बीजेपी नेता  अयप्पा धर्म सेना के अध्यक्ष राहुल ईस्वर सोमवार शाम को ‘सन्निधानम’ पहुंच गए हैं.

बता दें कि सोमवार को मंदिर में प्रवेश  पूजा करने के लिए 30 वर्षीय एक महिला ने हंगामा के भय से सुरक्षा देने की मांग की थी. हालांकि इस पर केरल पुलिस की राय आपस में बंटी हुई नजर आई. लोकल पुलिस का कहना था कि महिला ने सुरक्षा मांगी है, वहीं एसपी राहुल आर नायर का कहना है कि उन्होंने सुरक्षा की मांग नहीं की है. पुलिस ने बताया था कि अलपुझा जिले की अंजू नाम की महिला ने मंदिर जाने के लिए सुरक्षा मांगी है. वह अभी पंबा के पुलिस नियंत्रण कक्ष में हैं. उनके साथ उनके पति अभिलाष  दो बच्चे भी हैं. उन्होंने बोला कि महिला को मंदिर ले जाया जाए या नहीं इस पर अभी निर्णय नहीं हुआ है. हालांकि अंजू का कहना है कि वह मंदिर में जाने की इच्छुक नहीं है  अपने पति के दबाव में पंबा आई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *