Breaking News

बैंकों का राष्ट्रीयकरण नहीं बल्कि सरलीकरण होना चाहिए: राजनाथ सिंह

लखनऊ. बैंकों का राष्ट्रीयकरण नहीं बल्कि सरलीकरण होना चाहिए। ये बातें आज कोआपरेटिव बैंक के 100 साल पूरे होने पर देश के गृहमंत्री व लखनऊ के सांसद राजनाथ सिंह बोल रहे थे।

इस मौके पर राजनाथ सिंह ने कहा कि यह बैंक लागतार 100 साल से काम कर रही है। इसका मतलब इसकी बुनियाद बहुत मजबूत है। कॉपरेटिव बैंक देश की आर्थिक व्यवस्था से जुड़ा हुआ है। कॉपरेटिव बैंक सीधे जन सामान्य से जुड़ा होता है। कोआपरेटिव बैंक अच्छे से काम कर सके कि ये सभी सही से काम कर सके।

राजनाथ सिंह ने कहा कि 1969 में इंद्रा गांधी ने बैंकों का राष्ट्रीयकरण किया था जिससे लोगों को कई बड़ी उम्मीद हुई थी लेकिन वह पूरी नहीं हुई थी पर आज जनता की उम्मीद पर काम किया जा रहा है। हम समझते है कि बैंकों का राष्ट्रीयणकरण नहीं बल्कि सरलीकरण होना चाहिए जिस पर हम काम कर रहे हैं।

यह कॉपरेटिव बैंक अन्य बैंकों से 1% कम पर ब्याज देते है। इसके लिए मैं इनको बधाई देता हूं । मैं सभी को 100 वर्ष पूरे होने पर बधाई देता हूं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *