Breaking News

आईडीपीसी ने ड्रग्स पर संयुक्त राष्ट्र महासभा के विशेष सत्र का किया आग्रह

एक रिपोर्ट में कहा गया है कि संयुक्त राष्ट्र की पिछले 10 वर्षो की मादक पदार्थ विरोधी रणनीति विफल साबित हुई है। इंटरनेशनल ड्रग पॉलिसी कंसोर्टियम (आईडीपीसी) की एक रिपोर्ट में इस बात का खुलासा हुआ है। रिपोर्ट में अवैध नारकोटिक्स पर वैश्विक नीति के बारे में फिर से विचार करने का आह्वान किया गया है।

यह रिपोर्ट रविवार को जारी की गई जिसमें दावा किया गया कि ‘वॉर ऑन ड्रग्स’ के माध्यम से 2019 तक अवैध ड्रग्स बाजार को खत्म करने के संयुक्त राष्ट्र के प्रयासों ने इनकी वैश्विक आपूर्ति पर बहुत ही कम प्रभाव डाला है। साथ ही इसने स्वास्थ्य, मानवाधिकार, सुरक्षा और विकास पर नकरात्मक प्रभाव डाला है।

पिछले दशक में ड्रग्स से संबंधित मौतों में 145 फीसदी की वृद्धि हुई है, जिसमें से अमेरिका में अकेले 2017 में 71,000 से ज्यादा लोगों की मौत नशे के अधिक सेवन से हुई है।

पिछले 10 वर्षों में विश्व भर में ड्रग्स से जुड़े अपराधों के लिए कम से कम 3,940 लोगों को मौत की सजा दी गई। फिलीपींस में मादक पदार्थ विरोधी कार्रवाई के परिणास्वरूप करीब 27,000 लोगों की न्यायेत्तर हत्याएं हुईं।

आईडीपीसी ने ड्रग्स पर संयुक्त राष्ट्र महासभा के विशेष सत्र का आग्रह किया है ताकि अगले 10 वर्षो के लिए नारकोटिक्स रणनीति पर एक विभिन्न दृष्टिकोण पर विचार किया जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *