Breaking News

बिहार में सपा ने फूंका चुनावी बिगुल

22-09 n
पटना ()। मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बिहार में सत्ता का बिगुल फूंक दिया है। उन्होंने मंगलवार को कहा कि समाजवादी रास्ता ही भारतीय राजनीति का विकल्प होगा, जिसमें समाज के सभी वर्गो का हित शामिल है। सामाजिक आर्थिक विषमता इससे ही दूर हो सकती हैं। समाजवादी पार्टी सेक्यूलर और सोशलिस्ट व्यवस्था की पक्षधर है और विकास के संतुलन के रास्ते पर काम करती है। आपसी भाईचारा, सामाजिक सद्भाव एवं विकास साथ-साथ चलते हैं। तभी सभी का दुःखदर्द दूर होगा।
अखिलेश यादव ने पटना में ये बातें कही हैं। वह पटना स्थित कृष्णा मेमोरियल हाल में, समाजवादी पार्टी द्वारा बिहार विधान सभा चुनाव को देखते हुए आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन को सम्बोधित कर रहे थे। सम्मेलन में सभी छह दलों के गठबंधन के नेता रघुनाथ झा, तारिक अनवर, देवेन्द्र यादव, पप्पू यादव, संजय वर्मा सहित समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष रामचन्द्र यादव मौजूद थे।
       22-09 l
अखिलेश यादव ने अपने संबोधन में कहा कि समाजवादी सरकार ने उत्तर प्रदेश में जो विकास कार्य तीन साल में कर दिखाए हैं वे बिहार में क्यों नहीं हो सकते और अब तक क्यों नहीं हुए? यह बिहार विधान सभा के चुनाव का केंद्रीय मुद्दा होगा। उत्तर प्रदेश में किसानों, गरीबों, छात्रों, नौजवानों, महिलाओं, अल्पसंख्यकों एवं श्रमिकों के हित में तमाम योजनाएं चलाई गई हैं। आज उत्तर प्रदेश में किसानों को समाजवादी सरकार द्वारा सिंचाई की मुफ्त व्यवस्था है, उन्हें बीमा और फसल नष्ट होने पर पर्याप्त मुआवजा, फसलों की बिक्री के लिए मंडियों की स्थापना, कामधेनु योजना आदि का लाभ मिल रहा है। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे सहित सड़कों और पुलों का निर्माण हुआ है। लैपटाप, समाजवादी पेंशन योजना, मुफ्त ई-रिक्शा वितरण, विद्युत आपूर्ति, सौर ऊर्जा पर भी उत्तर प्रदेश में तेजी से काम हो रहा है। मुख्यमंत्री ने बिहारवासियों के साथ अपने सामाजिक एवं भावनात्मक संबंधोम की याद दिलाते हुए कहा है कि बिहार और उत्तर प्रदेश देश की राजनीति को नई दिशा देने की ताकत रखते है। डा. लोहिया, जयप्रकाश नारायण, कर्पूरी ठाकुर ने समाज परिवर्तन के लिए बहुत संघर्ष किया है और वही रास्ता मुलायम सिंह यादव और समाजवादी पार्टी का है। इसी रास्ते पर चलकर बिहार की भी तरक्की हो सकती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *