Wednesday , April 21 2021
Breaking News

रेप कांड: दाती महाराज की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में अहम सुनवाई कल

रेप मामले में दिल्ली न्यायालय के CBI जांच के आदेश के खिलाफ  दाती महाराज की याचिका पर सुप्रीम न्यायालय सोमवार को अहम सुनवाई करेगा जस्टिस एनवी रमन्ना की अध्यक्षता वाली खंडपीठ दाती महाराज की याचिका पर पहली बार सुनवाई करेगी दरअसल, दाती महाराज ने दिल्ली न्यायालय के 3 अक्टूबर के उस आदेश को चुनौती दी है, जिसमें हाई न्यायालय ने दाती महाराज के विरूद्ध बलात्कार मामले की जांच दिल्ली पुलिस अपराध ब्रांच से CBI के हवाले कर दिया था आपको बता दें कि 3 अक्टूबर को पीड़िता की याचिका पर सुनवाई करते हुए दिल्ली न्यायालय ने मामले को दिल्ली पुलिस अपराध ब्रांच से CBI को ट्रांसफर करने का आदेश दिया था

Related image

हाईकोर्ट ने CBI को दोबारा जांच कर सप्लीमेंट्री चार्जशीट दायर करने का भी आदेश दिया था हाई न्यायालय ने दाती महाराज की गिरफ्तारी न होने पर दिल्ली पुलिस अपराध ब्रांच को फटकार भी लगाई थी पीड़िता ने दिल्ली हाई न्यायालय में याचिका दायर कर सीबीआइ जांच  दाती की गिरफ्तारी की मांग की थी

दिल्ली पुलिस अपराध ब्रांच ने दाखिल की थी चार्जशीट
दिल्ली पुलिस की अपराध ब्रांच ने बलात्कार मामले में दाती महाराज के विरूद्ध साकेत न्यायालय में चार्जशीट दाखिल की थी दाती महाराज की बिना गिरफ्तारी के ये चार्जशीट दाखिल की गई थी दाती  उसके तीन सौतेले भाइयों का नाम भी चार्जशीट के कॉलम नंबर 11 में आरोपी के तौर पर रखा गया था अपराध ब्रांच को दाती को अरैस्ट करने के पर्याप्त सबूत नहीं मिले थे अपराध ब्रांच सूत्रों के मुताबिक पीड़िता ने पाली आश्रम में जिन तीन तारीखों पर उसके साथ बलात्कार होने की FIR दर्ज कराई थी, उसमे से एक तारीख को लड़की पाली में मौजूद नही थी बल्कि अजमेर में अपने कॉलेज में मौजूद थी, जिसके सबूत कॉलेज में पीड़िता की उपस्थिति से पता लगे है

क्या है पूरा मामला
पीड़ित युवती की शिकायत पर फतेहपुरी बेरी थाने की पुलिस ने 7 जून को दाती  उसके तीन भाइयों अशोक, अर्जुन  अनिल के विरूद्ध बलात्कार के आरोप में एफआईआर दर्ज की थी शिकायतकर्ता का कहना था कि कथित आरोपियों ने साल  2016 में यहां  राजस्थान स्थित अपने आश्रम में ‘चरण सेवा’ के नाम पर उसका यौन शोषण किया आरोप के मुताबिक युवती पर पेशाब पीने तक का दबाव बनाया गया.12 जून को यह केस लोकल पुलिस से लेकर अपराध ब्रांच को ट्रांसफर कर दिया गया था

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *