Thursday , April 22 2021
Breaking News

दाऊद इब्राहिम की डी-कंपनी पर कसा शिकंजा, करप्शन के मामले में चलेगा मुकदमा

दाऊद इब्राहिम की डी-कंपनी का एक सदस्य अमेरिकी अधिकारियों द्वारा दर्ज कराए गए प्रत्यर्पण मामले में ब्रिटेन में फरवरी 2019 में मुकदमे का सामना करेगा एक न्यायालय ने शुक्रवार को यह जानकारी दी जबीर मोती ऊर्फ जबीर मोतीवाला को अगले वर्ष 25 से 27 फरवरी के बीच चलने वाले मुकदमे से पहले 12 नवंबर को होने वाली सुनवाई में पेश होने के लिये हिरासत में भेजा गया है मोती दक्षिण पश्चिम लंदन के वैंड्सवर्थ कारागार से शुक्रवार को वीडियो लिंक के जरिये वेस्टमिंस्टर मजिस्ट्रेट न्यायालय में पेश हुआ   वह धनशोधन  प्रत्यर्पण के आरोपों में अमेरिका प्रत्यर्पित किए जाने के मामले का सामना कर रहा है इससे पहले हुई सुनवाई में 51 वर्षीय मोती की जमानत याचिका को खारिज कर दिया गया था  शुक्रवार को उसने जमानत के लिये कोई याचिका दायर नहीं की

Image result for दाऊद इब्राहिम की डी-कंपनी पर कसा शिकंजा, करप्शन के मामले में चलेगा मुकदमा

कौन है जबीर मोती 
जबीर पाकिस्‍तान का नागरिक है  दस वर्ष के वीजा पर वह ब्रिटेन आया था जबीर दाऊद का खास गुर्गा है वह दाऊद की पत्‍नी महजबीं, उसके बेटे मोइन नवाज, उसकी दो बेटियों महरूक  महरीन, उसके दामाद जुनैद  औरंगजेब के आर्थिक कामकाज संभालता था पाकिस्‍तान, खाड़ी देशों, ब्रिटेन, यूरोप  दक्षिण एशियाई राष्ट्रों में फैले दाऊद इब्राहिम के काले कारोबार को जबीर ही संभालता था

सूत्रों के हवाले से जानकारी मिली है कि दाऊद के सभी काले कारोबार से होने वाली कमाई को आतंकवादियों की मदद के लिए इस्‍तेमाल किया जाता है यह भी बताया जा रहा है कि दाऊद के परिवार को ब्रिटेन में बसाने संबंधी विकल्‍प में जबीर मुख्‍य किरदार में है कराची में दाऊद के परिवार के आधिपत्‍य वाली संपत्ति में जबीर की खुद की भी प्रॉपर्टी है

हाल ही में जबीर मोती ने बारबाडोस, एंटिगुआ, डोमिनियन रिपब्लिक में दोहरी नागरिकता पाने  हंगरी में स्‍थायी रेजिडेंट स्‍टेटस पाने की भी प्रयास की थी वहीं दाऊद इब्राहिम 1993 में मुंबई में हुए बम धमाकों को मुख्‍य आरोपी है इन धमाकों में करीब 250 लोगों की मौत हुई थी दाऊद को स्‍पेशल डेजिग्‍नेटेड इंटरनेशनल टेररिस्‍ट (SDGT) घोषित किया गया है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *