Breaking News

क्या पीएम मोदी काशी से नहीं पुरी से लड़ेगे अगला लोकसभा चुनाव !

नई दिल्ली. 2019 लोकसभा चुनाव जैसे-जैसे नजदीक आ रही है वैसे-वैसे राजनीतिक गलियारों में गर्माहट तेज हो गई है। सभी राजनीतिक पार्टियां अपने-अपने रणनीतियों को धार देने में लगी हुई हैं। इसी बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगला लोकसभा चुनाव उड़ीसा राज्य के पुरी से लड़ने की तैयारी कर रहे हैं। मोदी 2014 का लोकसभा चुनाव वडोदरा और वाराणसी दो जगहों से लड़े थे।

पीएम मोदी ओडिशा के पुरी से लड़ सकते हैं लोकसभा चुनाव, तैयारी शुरु

बनारस और वडोदरा से और दोनों जगहों सो चुनाव जीते। फिर उन्होंने वडोदरा की सीट छोड़ दी और बनारस से सांसद बने रहे। अब उन्होंने फैसला किया है कि वो बनारस के साथ साथ पुरी से भी चुनाव लड़ेंगे। वजह है Odisha में होने वाला विधानसभा चुनाव।

Odisha में BJD-BJP आमने-सामने
Odisha में लोकसभा चुनाव के साथ-साथ विधानसभा का चुनाव होने जा रहा है, ऐसे में BJP को लगता है कि यदि PM मोदी Odisha से चुनाव लड़ते हैं तो BJP को फायदा होगा। Odisha में नवीन पटनायक की बीजू जनता दल (BJD) और BJP आमने-सामने हैं।

हांलांकि राज्यसभा के उपसभापति के चुनाव में बीजू जनता दल ने सरकार का साथ दिया था मगर उसके लिए JDU के नीतीश कुमार ने नवीन पटनायक से बात कर हरिवंश के लिए सर्मथन मांगा था जिसके लिए नवीन पटनायक तैयार हो गए थे। मगर विधानसभा चुनाव की बात कुछ और है।

पूरी ताकत Odisha में झोंकने वाली है
BJP अपनी पूरी ताकत Odisha में झोंकने वाली है क्योंकि त्रिपुरा के बाद BJP को लगता है कि Odisha जीता जा सकता है। नवीन पटनायक 2000 से लेकर अभी तक मुख्यमंत्री हैं और अपनी एक अलग जगह बना चुके हैं। PM को लगता है कि बनारस के बाद पुरी जैसे जगह से चुनाव लड़ने पर BJP का हिंदुत्व का ऐजेंडा भी कायम रह जाएगा।

बनारस में हर हर महादेव के बाद पुरी में जय जगन्नाथ की बारी है। बनारस भी मंदिरों का शहर और पुरी भी। कई जानकार मानते हैं कि पुरी से चुनाव लड़ने पर यदि मोदी लोगों को प्रभावित कर पाते हैं तो Odisha में BJP की सरकार बनाने में आसानी होगी।

फोटो-फाइल।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *