Breaking News

15 अगस्त से वाराणसी वाले उठा सकेंगें क्रूज शिप का मजा, देख सकेंगें सुबह-ए-बनारस और गंगा आरती

वाराणसी. मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी के लोग अब क्रूज का मजा ले सकते हैं। लग्जरी क्रूज अलकनंदा बुधवार को कोलकाता से वाराणसी पहुंच चुका है। ये क्रूज शिप कलकत्ता से 1400 किलोमीटर का सफर तय करके वाराणसी पहुंचा है। यात्री इस क्रूज से सैर-सपाटे का15 अगस्त से मजा उठा सकेंगे।

बता दें कि यह लग्जरी क्रूज सारी वर्ल्ड क्लास सुविधाओं से लैस है। वाराणसी के लोग इस क्रूज को लेकर काफी उत्साह में हैं। अलकनंदा-काशी नाम के इस क्रूज का संचालन नॉर्डिक क्रूजलाइन नाम की प्राइवेट कंपनी कर रही है। इस क्रूज का निर्माण कोलकाता में किया गया है।

क्रूज शिप से वाराणसी के घाटों की सैर कराई जाएगी। इसमें 60 लोगों एक बार में यात्रा कर सकते हैं। इस क्रूज में 2000 स्क्वायर फुट की जगह है। दो मंजिला इस क्रूज में नीचे का डेक पूरी तरह से एयर-कंडीशन्ड है। लग्जरी क्रूज को सेमिनार्स और पार्टी करने के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकेगा। इस क्रूज में विशेष बात ये है कि क्रूज में ऑनलाइन बुकिंग के जरिए 11 पंडितों द्वारा श्रद्धालुओं को रुद्राभिषेक करने का भी मौका मिलेगा।

इस क्रूज में सैलानियों को बनारस की सुबह और गंगा आरती दिखाई जाएगी। यह क्रूज दिन में दो बार चलेगा। एक सूर्योदय के वक्त और फिर शाम को गंगा आरती के वक्त। यह क्रूज अस्सी घाट से राजघाट तक की सैर कराएगा।

2 घंटे की क्रूज यात्रा करने पर प्रति व्यक्ति महज 750 रुपये देने होंगे। ये क्रूज अस्सी घाट से टूरिस्ट्स को लेकर राजघाट तक जाएगा और फिर वहां से वापस आएगा। इस शिप पर फूड आइटम ले जाने की अनुमति नहीं होगी।

इसकी दीवार पर ऑडियो-विजुअल सिस्टम चलाने की भी व्यवस्था रहेगी। इसका इस्तेमाल कॉर्पोरेट इवेंट्स के लिए किया जा सकेगा। इसके अलावा इसमें बायो-टॉयलेट की सुविधा है। क्रूज में पैंट्री की भी व्यवस्था रहेगी जिससे टूरिस्ट्स को ब्रेकफास्ट, स्नैक्स और लंच परोसा जा सके।

फोटो- फाइल।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *