Friday , April 16 2021
Breaking News

यौन शोषण के आरोपों में प्रवक्ता आरपीएन सिंह बोले, प्रधानमंत्री कार्रवाई करने की बजाये चुप्पी साधे

यौन शोषण के आरोपों में घिरे केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री एमजे अकबर की ओर से पीड़ित महिलाओं पर मानहानि का मुकदमा दर्ज कराने को कांग्रेस ने दुखद बताया है। पार्टी प्रवक्ता आरपीएन सिंह का कहना है कि अफसोस की बात है कि मोदी सरकार के मंत्री पर 14 महिलाओं ने आरोप लगाए हैं और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कार्रवाई करने की बजाये चुप्पी साधे हुए हैं। पीएम का कर्तव्य है कि वे स्पष्ट करें कि वे पीड़ित महिलाओं के साथ हैं कि नहीं हैं।

Image result for मोदी ]
प्रवक्ता ने कहा कि क्या सरकार महिलाओं को इस बात के लिए मजबूर करना चाहती है कि कोई आवाज न उठाए। मंत्री  का कहना है कि आरोप राजनीति से प्रेरित हैं, जबकि सच्चाई है कि आरोप लगाने वाली महिलाएं एक दूसरे जुड़ी नहीं हैं। उन्होंने हिम्मत करके बात रखी है और प्रधानमंत्री इस संबंध में कुछ कहते तक नहीं।

कांग्रेस ने आरोप लगाया कि यूपी के उन्नाव में बलात्कार के आरोप विधायक को आज तक पार्टी ने नहीं निकाला है। देवरिया में महिला शेल्टर होम मामले और बिहार की घटनाओं में भी पीएम ने एक बार भी बेटियों, महिलाओं के समर्थन में एक शब्द न तो ट्वीट किया और न ही कुछ कहा है।

नेहरू का योगदान और विरासत बहुत बड़ी

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि मोदी सरकार जो वादे करके सरकार में आई थी उस पर तो कुछ किया नहीं लेकिन प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू और उनकी विरासत को मिटाने की कोशिश साढ़े चार साल से जारी है।

उन्होंने कहा कि पंडित नेहरू का देश की स्वतंत्रता के लिए जेल गए, देश को बनाने में क्या योगदान रहा है ये देश से छुपा नहीं है। सरकार चाहे कितनी भी कोशिश कर ले नेहरू की विरासत इतनी बड़ी है कि उसे मिटाना तो दूर छू भी सकेंगे।

इलाहाबाद का नाम बदलने पर घेरा

सिंह ने इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज किए जाने पर प्रतिक्रिया जताई है कि जो वादे यूपी की योगी सरकार ने किए हैं वो कब पूरे होंगे। भाजपा सरकारें नाम तो बदल रही हैं लेकिन राज्य के लोगों की जिंदगी बदलने का जो सपना दिखाया था उसे कब पूरा करेंगे।

गुड़गांव का नाम गुरुग्राम कर दिया नतीजा क्या है वहां कानून व्यवस्था ध्वस्त है। उन्होंने सवा ल उठाया कि विकास की बात करने वाले काम नहीं सिर्फ नाम बदलकर क्या साबित करना चाहते हैं?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *