Thursday , April 22 2021
Breaking News

मुलायम सिंह यादव के परिवार में फूट, बीजेपी ने अपर्णा पर उठाए सवाल

 समाजवादी पार्टी (सपा) के संरक्षक मुलायम सिंह यादव के परिवार में एक  फूट हुई है मुलायम की छोटी बहू अपर्णा यादव ने सपा से अलग जाकर चाचा शिवपाल सिंह यादव के मोर्चे का समर्थन कर दिया है समाजवादी सेक्युलर मोर्चा के मंच पर पहुंचीं अपर्णा यादव ने कहा, ‘यहां 24 राजनीतिक दलों की मीटिंग बुलाई थी सब अगर एक साथ आएं तो वो एक शक्ति बन जाएगी शक्ति को इक्ट्ठा करें  इस दल में बल में बदल दिया मैं चाहती हूं कि सेक्युलर मजबूत हो मजबूती के साथ अपने लोकतंत्र को मजबूत करें ‘

Image result for मुलायम सिंह यादव के परिवार में फूट, बीजेपी ने अपर्णा पर उठाए सवाल

विधानसभा चुनाव में अपर्णा सपा के चुनाव चिन्ह पर लड़ी थीं, लेकिन वह चुनाव पराजय गई थीं भतीजे अखिलेश यादव से मनमुटाव के बाद पिछले दिनों शिवपाल यादव ने सपा से अलग होकर नए मोर्चे का गठन किया है माना जा रहा है कि भाजपा के साथ पर्दे के पीछे सांठ-गांठ के बाद उन्होंने सेक्युलर मोर्चे का गठन किया है

आगामी लोकसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी  बसपा की संभावित साझेदारी को निर्बल करने के लिए भाजपा ने शिवपाल यादव को आगे बढ़ाया है हालांकि शिवपाल यादव कह चुके हैं कि वे भाजपा के विरूद्ध लड़ाई लड़ते रहेंगे

साल 2017 में विधानसभा चुनाव से अच्छा पहले मुलायम सिंह यादव के परिवार का झगड़ा सामने आया था अखिलेश यादव पिता मुलायम को हटाकर सपा अध्यक्ष बन गए थे इसके अतिरिक्त उन्होंने चाचा शिवपाल को हासिए पर ढकेल दिया था

इस घटना के बाद से चाचा शिवपाल लगातार अखिलेश यादव को राजनीतिक नुकसान पहुंचाने वाले कदम उठाते रहे हैं इस पूरे मसले में शिवपाल दावा कर रहे हैं कि मुलायम सिंह यादव उनके साथ हैं, वहीं अखिलेश यादव का कहना है कि उन्हें पिता का आर्शीवाद प्राप्त है परिवार की इस लड़ाई में मुलायम कभी शिवपाल तो कभी अखिलेश के मंच पर देखे जा चुके हैं मुलायम सिंह यादव स्पष्ट नहीं कर पाए हैं कि उनका समर्थन भाई शिवपाल को है या बेटे अखिलेश यादव को

मुलायम सिंह की छोटी बहू अपर्णा यादव के चाचा शिवपाल यादव के साथ मंच साझा करने के बाद भाजपा ने इसपर सवाल उठाए हैं भाजपा के प्रवक्ता मनीष शुक्ला ने बोला कि अब समाजवादी प्रमुख अखिलेश यादव को जवाब देना चाहिए कि, आखिरकार अपर्णा किसके साथ जा रही हैं सपा की ओर से बार-बार यह कहे जाने पर कि कुछ पार्टी भाजपा की बी टीम है इन आरोपों को लेकर मनीष शुक्ला ने बोला कि आजकल यह फैशन हो गया है

नेता  पार्टियां जब पॉलिटिक्स में प्रासंगिक नहीं रह जाती हैं तो वे खुद को प्रासंगिक बनाने के लिए ऐसा बोलते हैं साथ में उन्होंने यह भी बोला कि तमाम राजनीतिक दल भाजपा के साथ हो रही है, क्योंकि जनता भाजपा के साथ है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *