Breaking News

प्रधानमंत्री मोदी ने करूणानिधि को दी अंतिम श्रद्धांजलि, बताया असाधारण नेता

चेन्नई.  DMK अध्यक्ष एम. करुणानिधि को श्रद्धांजलि देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चेन्नई पहुंच गए हैं। वहीं अपने नेता की अंतिम झलक पाने के लिए समर्थकों का सुबह से ही तांता लगा हुआ है। उनका पार्थिव शरीर यहां राजाजी हॉल में रखा गया है जहां बड़ी संख्या में लोगों की कतारें लग गईं हैं। पूर्व मुख्यमंत्री करुणानिधि का मंगलवार को लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया था।

चेन्नई पहुंचे मोदी ने करूणानिधि को अंतिम श्रद्धांजलि दी और ट्वीट कर कहा कि चेन्नई में, मैंने एक असाधारण नेता और एक अनुभवी प्रशासक को श्रद्धांजलि अर्पित की जिसका जीवन सार्वजनिक कल्याण और सामाजिक न्याय के लिए समर्पित था। आगे उन्होंने कहा कि कलिनगर करुणानिधि लाखों लोगों के दिल और दिमाग में रहेंगे जिनके जीवन उनके द्वारा परिवर्तित किए गए थे।

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी, उप मुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम, लोकसभा के उपसभापति एम थंबीदुरई, राज्य के वरिष्ठ मंत्री, एएमएमके नेता और आरके नगर से विधायक टीटीवी दिनाकरण, सुपरस्टार रजनीकांत और उनके परिवार तथा अभिनेता शिवकार्तिकेयन ने करुणानिधि को श्रद्धांजलि दी।

पलानीस्वामी ने व्यक्त की संवेदना

मीडिया से मुखातिब होकर पलानीस्वामी ने कहा कि करुणानिधि का निधन ‘‘तमिलनाडु के लिए भारी क्षति’’ है। उन्होंने द्रमुक के कार्यकारी अध्यक्ष एवं विपक्ष के नेता एम के स्टालिन, करुणानिधि के परिवार तथा द्रमुक कार्यकर्त्ताओं के प्रति संवेदनाएं व्यक्त की। पलानीस्वामी और पनीरसेल्वम ने स्टालिन के साथ थोड़ी देर बात की जिसमें उन्होंने उनके पिता के निधन पर संवेदनाएं जताई और ढांढस बधाया।

राजाजी हॉल में रखा गया पार्थिव शरीर
करुणानिधि का पार्थिव शरीर सीआईटी नगर आवास से राजाजी हॉल लाया गया है ताकि जनता अपने पूर्व मुख्यमंत्री के अंतिम दर्शन कर सके। राष्ट्रीय ध्वज में लिपटे करुणानिधि के पार्थिव शरीर के पास उनकी संतान स्टालिन, एम के सेल्वम और कनिमोझी समेत उनके रिश्तेदार और द्रविड नेता मौजूद हैं।

अंतिम दर्शन के लिए समर्थक का तांता

शोकाकुल पार्टी नेता और विधायक राजाजी हॉल की सीढ़ियों पर बैठे हुए हैं। अंतिम झलक पाने के लिए सुबह से ही समर्थकों का तांता लगा हुआ है। जिनमें से कुछ विभोर कर अपने नेता के नाम के नारे लगा रहे हैं। 94 वर्षीय नेता ने 11 दिन तक बीमारी से लड़ने के बाद मंगलवार शाम 6 बजकर 10 मिनट पर चेन्नई के कावेरी अस्पताल में अंतिम सांस ली।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *