Breaking News

ट्रंप ने सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश पद के लिए ब्रेट कैवनॉग को किया नामित

यौन उत्पीड़न का आरोप झेल रहे ब्रेट कैवनॉग आखिरकार अमेरिकी सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश बन गए हैं। अमेरिकी सीनेट ने उनकी नियुक्ति को मंजूरी दे दी है। बता दें कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश पद के लिए ब्रेट कैवनॉग को नामित किया था।

गौरतलब है कि कैवनॉग पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगने के बादउनकी नियुक्ति पक्की करने की प्रक्रिया काफी मुश्किल हो गई थी। हालांकि इस दौरान व्हाइट हाउस हमेशा कैवनॉग के समर्थन में खड़ा रहा।

दरअसल, क्रिस्टीन ब्लेसी फोर्ड नाम की एक महिला ने कैवनॉग पर यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया था। उन्होंने वाशिंगटन पोस्ट को दिए साक्षात्कार में कहा था कि 1980 के दशक में ग्रीष्मकाल के दौरान कैवनाग और उनके एक दोस्त ने शराब के नशे में चूर होकर एक टीन एज पार्टी में मुझे घेर लिया था और कैवनॉग मुझे पलंग पर धक्का मारा अभद्र हरकतें करने लगे। मैंने जब चिल्लाने की कोशिश की तो उसने मेरे मुंह पर हाथ रख दिया।

हालांकि, कैवनॉग ने इस आरोप को सिरे से खारिज कर दिया था। उन्होंने व्हाइट हाउस के जरिए जारी किए गए एक बयान में कहा था, ’35 साल पहले की यह कथित घटना कभी नहीं हुई। उस वक्त मुझे जानने वाले लोग जानते हैं कि ऐसा नहीं हुआ और उन्होंने ऐसा कहा भी है। यह दुर्भावनापूर्ण और स्पष्ट है।’

वहीं, व्हाइट हाउस की प्रवक्ता केरी क्यूपेक ने भी उनके बचाव में कहा था, ‘यह 35 साल पुराना अपुष्ट दावा डैमोक्रेट्स की ओर से चलाया गया नया दुर्भावनापूर्ण अभियान है, जिसका मकसद एक भले आदमी को बदनाम करना है।’

अमेरिकी सीनेट द्वारा कैवनॉग की नियुक्ति की मंजूरी मिलने के बाद राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट करते हुए कहा ‘मैं अमेरिकी सीनेट की सराहना करता हूं और उन्हें बधाई देता हूं कि उन्होंने मेरे द्वारा नामित किए गए सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश ब्रेट कैवनॉग की नियुक्ति की मंजूरी दी।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *