Breaking News

1 लाख करोड़ डॉलर की कंपनी बनी ‘Apple’, खरीद सकती है 3 से ज्यादा पाकिस्तान

डेस्क। I-Phone बनाने वाली अमेरिकी कंपनी Apple बृहस्पतिवार को दुनिया की पहली एक लाख करोड़ डॉलर (लगभग 68,620 अरब रुपये) की कंपनी बन गई। अप्रैल-जून तिमाही के नतीजे आने के बाद कंपनी के शेयर 2।8 फीसदी चढ़कर 207।05 डॉलर पहुंच गए।

Apple

कंपनी के शेयरों में 9 फीसदी की बढ़ोतरी देखी गई। Apple के सह संस्थापक स्टीव जॉब्स ने 1976 में एक गैराज से इसकी शुरुआत की थी। 2011 में उनके निधन के बाद से टिम कुक कंपनी के मुखिया हैं। कंपनी की स्टॉक मार्केट वैल्यू, एक्सॉन मोबिल, प्रॉक्टर एंड गैंबल और एटीएंडटी की संयुक्त पूंजी से भी ज्यादा है। दूसरे नंबर पर अमेजन है जिसका मार्केट कैप 869 अरब डॉलर है।

भारत की अर्थव्यवस्था का करीब 38 फीसदी

Apple की एक लाख करोड़ डॉलर की मार्केट वैल्यू भारत की अर्थव्यवस्था का करीब 38 फीसदी है। विश्व बैंक की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि भारत दुनिया की छठी बड़ी अर्थव्यवस्था है और उसकी कुल अर्थव्यवस्था 2।6 लाख करोड़ डॉलर है।

TCS से 9 गुना बड़ी कंपनी

भारत की बड़ी कंपनी TCS हैं। हाल ही में TCS और रिलायंस इंडस्ट्री बिलियन डॉलर की कंपनियां बनी हैं। Apple TCS के मुकाबले 9 गुना बड़ी कंपनी है।

फोन की कीमतों में हुई बढ़ोतरी

कंपनी का मुनाफा इसलिए बढ़ गया क्योंकि I-Phone के सभी पिछले मॉडल्स की कीमतों में 20 फीसदी की वृद्धि हो गई है। अप्रैल-जून की तिमाही में कंपनी के I-Phone की बिक्री 1 फीसदी बढ़ गई है, लेकिन आय में भी 17 फीसदी का इजाफा हो गया है।

यह 606 डॉलर (41,800 रुपये) से बढ़कर 724 डॉलर (50,000 रुपये) हो गई है। सीईओ टिम कुक के अनुसार दाम ज्यादा होने के बावजूद I-Phone-X सबसे लोकप्रिय फोन रहा। इसकी कीमत 999 डॉलर से शुरू होती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *