Breaking News

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी की पटना में आयोजित ‘भाजपा भगाओ, लोकतंत्र बचाव’ रैली

भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी-लेनिनवादी) भाकपा माले की गुरुवार को पटना में आयोजित ‘भाजपा भगाओ, लोकतंत्र बचाव’ रैली में राजद और शरद यादव की लोकतंत्रिक जनता दल सहित अन्य वामदलों ने हिस्सा लिया पर इसमें कांग्रेस को आमंत्रित नहीं किया गया ।

Image result for भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी

भाकपा माले के महासचिव दीपांकर भट्टाचार्य ने भाजपा के खिलाफ वामदलों सहित अन्य विपक्षी दलों को आमंत्रित किए जाने तथा कांग्रेस को आमंत्रित नहीं किए जाने के बारे में पूछे जाने पर कहा, ‘‘आज बहुत सी नीतियों का हम जो दुष्परिणाम झेल रहे हैं वह उनके जमाने की नीतियां हैं।’’

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा से भाकपा माले की रैली में उनकी पार्टी को आमंत्रित नहीं किए जाने के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘‘ राजद के साथ वे महागठबंधन में शामिल हैं पर अन्य दल जो सीधे तौर पर हमलोगों के संपर्क में नहीं हैं हो सकता है कि वे राजद के साथ बातकर अपना काम चलाएं ।’’

पटना के गांधी मैदान में आयोजित भाकपा माले की रैली को संबोधित करते दीपांकर ने केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार पर हमला बोलते हुए 2014 के लोकसभा चुनाव के समय भाजपा के नारों और वादों का जिक्र किया और पूछा कि न खाऊंगा, न खाने दूंगा का क्या हुआ? उन्होंने आरोप लगाया कि नरेंद्र मोदी 2014 के चुनाव में बड़े-बड़े वादे किए थे पर उन वादों का क्या हुआ।

दीपांकर ने पूछा कि बुलेट ट्रेन कहां है, 15 लाख किसको मिला, रुपया लगातार गिरता जा रहा है, पेट्रोलियम पदार्थों की कीमत चार वर्षों में लगभग दुगनी हो गयी है। उन्होंने आरोप लगाया कि राफेल डील के तहत केंद्र सरकार ने देश की सुरक्षा से समझौता किया है।

भाकपा माले की इस रैली को माकपा के राज्य सचिव अवधेश, जेएनयू छात्र के संघ अध्यक्ष साईं बालाजी, राजद विधायक शिव चन्द्र राम और पूर्व विधानसभा अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी जो अब लोकतंत्रिक जनता के साथ हैं ने भी संबोधित किया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *