Breaking News

तेलंगाना राष्ट्रीय समिति के लिए उसके उम्मीदवार समुदाय विशेष के लोग कर रहें ये सब

आपने चुनावी फतवों के बारे में सुना होगा जिसमें किसी एक समुदाय, स्थान के लोगों से अमुक पार्टी के पक्ष में वोट डालने के लिए कहा जाता है। लेकिन शायद ही आपने मंदिरों और मस्जिदों में दिलाई जाने वाली उस शपथ के बारे में सुना हो जो आजकल तेलंगाना में देखने को मिल रही है। कुछ दिनों पहले ही राज्य के मुख्यमंत्री के चंद्रशखेर राव ने विधानसभा भंग की थी। इसी वजह से राज्य में अब चुनाव होने हैं।

Image result for धार्मिक स्थलों पर शपथ
ऐसे में तेलंगाना राष्ट्रीय समिति (टीआरएस) की जीत सुनिश्चित करने के लिए उसके उम्मीदवार समुदाय विशेष के लोगों को धार्मिक स्थलों पर शपथ दिलवा रहे हैं। इन दिनों राज्य के पूर्व परिवहन मंत्री रहे महेंद्र रेड्डी का एक वीडियो वायरल हो रहा है। वीडियो में वह तंदूर की एक मस्जिद के अंदर एक समूह को मत प्रतिज्ञा दिलाते हुए नजर आ रहे हैं।

इससे आशंका जताई जा रही है कि चुनाव में जीत हासिल करने के लिए टीआरएस समुदाय विशेष को अपनी रणनीति का हिस्सा बना रहा है। वीडियो में दिख रहा है कि मुस्लिम शपथ ले रहे हैं कि वह टीआरएस और उसके उम्मीदवार को ही वोट देंगे। शपथ दिलाने के इस रिवाज के दौरान नमाजियों ने प्रतिज्ञा की कि वह केवल टीआरएस को ही वोट देंगे क्योंकि मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव और महेंद्र रेड्डी ने चार सालों में मुस्लिमों की देखभाल की है।

मस्जिद के अंदर हुई इस प्रतिज्ञा पर टिप्पणी करते हुए एक स्थानीय निवासी रिजवान खान ने कहा, दूसरे धर्मों या पूजा स्थलों के बारे में नहीं कह सकता लेकिन यह इस्लाम में स्वीकार्य नहीं है। इस मामले पर दूसरे स्थानीय नागरिक रवि ने ट्विटर पर लिखा, गलत प्रथा। धार्मिक स्थलों पर इसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। इन स्थानों को स्वार्थी राजनेताओं और राजनीतिक शपथ से दूर रहना चाहिए। क्या पुलिस इन्हें बंद करवा सकती है?

पूर्व मुख्यमंत्री मर्री चेन्ना रेड्डी के पोते आदित्य रेड्डी ने कहा कि कम से कम भगवान को तो अकेला छोड़ दो। राव और उनके असुरक्षित मंत्रियों पर दया आती है जो शर्मनाक रूप से मतदान को सांप्रदायिक बना रहे हैं। आदित्य हाल ही में तेलंगाना जन समिति में शामिल हुए हैं। इसके अलावा बहुत से गांवों में रहने वाले लोग सर्वसम्मति से यह संकल्प ले रहे हैं कि वह टीआरएस उम्मीदवार को वोट देंगे।

हाल ही में खत्म हुए गणेश उत्सव के दौरान भी कई गांववालों ने सर्वसम्मति से ऐसे ही संकल्प पत्र की प्रतियों को एक-दूसरे में वितरित किया था। गांव के मंदिरों में शपथ लेना एक कसौटी बन गई है। राजक समुदाय ने गणेश की प्रतिमा के सामने अरमूर में ए जीवन रेड्डी को वोट देने की शपथ ली है। राज्य की स्वास्थ्य मंत्री रहीं सी लक्ष्मी रेड्डी एक ऐसे कार्यक्रम का हिस्सा रहीं जहां लोगों ने टीआरएस को वोट देने की कसम खाई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *