Breaking News

बीजेपी की महिला विधायक के दर्शन से अपवित्र हुआ मंदिर, गंगाजल से धोकर पुजारी ने किया पवित्र

हमीरपुर. सरकार के महिला सस्कतीकरण के वादे पर एक बार फिर से बड़ा धक्का लगा है। महिलाओं को समानता और अधिकार की बात करने वाली सरकार पर एक बार फिर से उंगली उठ रही है। अंधविश्वास खत्म होने का नाम नहीं ले रहा। महिलाओं को अब भी नीची नजर से देखा जा रहा है। एक ऐसा ही मामला सामने आया है जिससे सरकार की योजनाओं और प्रयासों पर पानी फिरता नजर आ रहा है। यह मामला हमीरपुर की महिला विधायक से जुड़ा हुआ है।

यह मामला वर्तमान में हमीरपुर से महिला विधायक मनीषा अनुरागी के मंदिर प्रवेश से सम्बन्धित है। गत 12 जुलाई को महिला विधायक स्कूल के कार्यक्रम में शिरकत करने पहुंची थीं। इस दौरान उन्होंने पास के ही आश्रम में पहुंचकर धूम्र ऋषि के मंदिर में पूजा-अर्चना की थी। महिला विधायक के जाने के बाद अपवित्र मंदिर को गंगाजल से धोया और मूर्ति को संगम नहलाया गया।

जानकारी के अनुसार इस मंदिर में महिलाओं का प्रवेश वर्जित है। इसलिए आश्रम आने वाली महिलाएं बाहर से ही दर्शन कर आशीर्वाद लेती हैं। विधायक मनीषा अनुरागी कुछ दिन पूर्व मंदिर के अंदर चली गईं। इससे सदियों से चली आ रही पुरानी परंपरा टूट गई। किसी अनहोनी की आशंका से भयभीत ग्रामीणों ने आश्रम को गंगाजल से धोकर पवित्र किया। साथ ही मंदिर में विराजमान धूम्र ऋषि के स्वरूप को फूलों की पालकी में इलाहाबाद ले जाकर संगम स्नान कराया।

दलितों को मंदिर प्रवेश रोकने पर तनाव

विकासखंड राठ के मुस्करा खुर्द गांव के ग्रामीणों के मुताबिक गांव में सदियों पुराना आश्रम बना है। जहां धूम्र ऋषि निवास करते थे। आश्रम में ही एक पुराना मंदिर है। जिसमें दूर दूर से ग्रामीण मनोकामना के लिए दर्शन करने आते हैं। आश्रम के मंदिर में धूम्र ऋषि की प्रतिमा से लोग मन्नतें मांगते हैं। इस मंदिर की ऐसी मान्यता है कि दिल से मांगी हर मुराद अवश्य पूरी होती है।

फोटो- फाइल।।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *