Breaking News

नम आंखों से रोनाल्डो ने छोड़ा मैदान

दुनिया के दो दिग्गज फुटबॉलरों लियोनल मेसी और क्रिस्टियानो रोनाल्डो में नया सत्र शुरू होते हुए आगे निकलने की होड़ शुरू हो जाती है। बार्सिलोना के स्टार खिलाड़ी और कप्तान मेसी ने चैंपियंस लीग में जहां हैट्रिक के साथ धमाकेदार आगाज वहीं पुर्तगाल के स्टार फुटबॉलर रोनाल्डो की लीग में शुरुआत निराशाजनक रही।

रियल मैड्रिड को अलविदा कहने के बाद पहली पर स्पेन में खेलने उतरे जुवेंटस के खिलाड़ी रोनाल्डो को वेलेंसिया के खिलाफ मुकाबले में 29वें मिनट में ही रेफरी फेलिक्स ब्रिच ने रेड कॉर्ड दिखा दिया। फेलिक्स के इस फैसले से रोनाल्डो बहुत निराश हुए। वे मैदान पर ही घुटनों के बल बैठ गए। उन्होंने दोनों हाथ से अपना चेहरा छिपा लिया। बाद में मैदान से निकलने के दौरान उनकी आंखों में आंसू थे। चैंपियंस लीग के 154 मैचों में पहली बार रोनाल्डो को रेड कार्ड दिखाया गया।

मुरिलो से हुई झड़प

मैच के दौरान रोनाल्डो ने वेलेंसिया के डिफेंडर जीसन मुरियो को चिढ़ाने के लिए किक मार दी। हालांकि, इससे मुरिलो को नुकसान नहीं हुआ। इसके बाद रेफरी फेलिक्स ने अपने सहायक से सलाह करने के बाद रोनाल्डो को रेड कार्ड दिखा दिया।

इसके चलते अब रोनाल्डो चैंपियंस लीग में अपने पूर्व क्लब मैनचेस्टर यूनाइटेड के खिलाफ मुकाबले में नहीं खेल पाएंगे। हालांकि ऐसा तब होगा जब यूरोपियन फुटबॉल की प्रशासनिक संस्था यूईएफए रोनाल्डो पर एक से ज्यादा मैच का प्रतिबंध लगाए।

दस खिलाड़ी से खेला जुवेंटस फिर भी जीत

रोनाल्डो के बाहर होने के बाद उनकी टीम जुवेंटस दस खिलाड़ियों के साथ खेली और जीती भी। जुवेंटस ने वेलेंसिया को 2-0 से मात देकर जीत के साथ आगाज किया। जुवेंटस के लिए दोनों गोल मिरेलम पजनिक ने (45वें व 51वें मिनट) छह मिनट के भीतर पेनाल्टी से दागे।

उठने लगी वीएआर की मांग

इस घटना के बाद से यूरोप के इस प्रमुख क्लब टूर्नामेंट में वीडियो असिस्टेंट रेफरल (वीएआर) तकनीक लागू करने मांग फिर से उठने लगी है। यूईएफए ने इस टूर्नामेंट में अब तक वीएआर लागू करने की मंजूरी नहीं दी है।

जुवेंटस के कोच मास्सिमिलिआनो एलग्रे ने कहा, ‘मैं सिर्फ इतना कह सकता हूं कि सही फैसला लेने में वीएआर रेफरी की मदद कर सकता था।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *