Breaking News

‘व्हाट्स अप’ के माध्यम से फैलाया जा रहा हैं अफवाह 

जम्मू व कश्मीर पुलिस ने सोशल मीडिया पर की गयी फर्जी पोस्ट पर कल बुधवार को अज्ञात लोगों के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज की राज्य के डोडा जिले में कुछ युवकों के आतंकीसमूहों में शामिल होने की फर्जी सोशल मीडिया पोस्ट वायरल हुए थें जिसके बाद जम्मू व कश्मीर के पुलिस ने ये कार्यवाई की पुलिस अधिकारियों ने बताया कि सोशल मीडिया पर इसे लेकर फर्जी पोस्ट लगातार डाले जा रहे थे
पुलिस सूत्रों के अनुसार उन दो युवकों का पता लगा लिया है जिनके नाम का इस पोस्ट में उल्लेख किया गया है हालांकि एक  युवक लापता है जिसके नाम का भी उल्लेख पोस्ट में किया गया है उसके विरूद्ध लुकआउट नोटिस  गैर जमानती वारंट जारी किया गया है

Image result for जम्मू-कश्मीर में युवकों के आतंकी समूह में शामिल
एक पुलिस ऑफिसर ने बताया, ‘‘डोडा पुलिस की जानकारी में आया कि डोडा जिले के कुछ लड़कों के आतंकी समूहों में शामिल होने से जुड़ी फोटोज़  मैसेज व्हाट्सएप समूहों में फैलाये जा रहे हैं ’’

सोशल मीडिया पर लगाम लगाने को जारी हैं दिशा-निर्देश
जम्मू व कश्मीर पुलिस सोशल मीडिया पर लगाम लगाने की पुरजोर प्रयास कर रहा हैं सक्रिय ‘व्हाट्स अप ग्रुप्स’ को डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर के यहां पंजीकृत कराने का आदेश अनेको बार जारी किया गया हैं लेकिन अफवाहों का यह तंत्र बहुत ज्यादा सशक्त हैं पूर्व में भी राज्य के विभिन्न जिलों के लोकल जिला प्रशासन ने फर्जी संदेशो को नियंत्रित करने  लगाम लगाने को पंजीकरण कराने का आदेश दिया था
टाइम्स ऑफ़ इंडिया में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार राज्य में इस तरह के अनेक समूह सक्रिय हैं जिन्हें ‘कीपैड जिहादी’ भी कहा जाता है पुलिस अधिकारियों ने पूर्व में कंप्यूटर इमरजेंसी रेस्पॉन्स टीम-इंडिया को ऐसे अफ़वाह फैलाने वाले सक्रिय ट्विटर  फेसबुक हैंडल्स को बंद करने के लिए कहा था

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *