Breaking News

पेट्रोल डीजल पर कांग्रेस पार्टी के हिंदुस्तान बंद में कई राजनैतिक पार्टियां दे रही साथ

पेट्रोल डीजल पर कांग्रेस पार्टी के हिंदुस्तान बंद में कई राजनैतिक पार्टियां साथ दे रही हैं तो कई पार्टियों ने ऐन वक्त पर गच्चा दे दिया है. महाराष्ट्र में अपनी पकड़  प्रभाव रखने वाली शिवसेना ने आकस्मित हिंदुस्तान बंद में शामिल होने से मना कर दिया है.
Image result for पेट्रोल डीजल पर कांग्रेस पार्टी के हिंदुस्तान बंद में कई राजनैतिक पार्टियां दे रही साथ

कांग्रेस पार्टी ने शिवसेना से ऑयल की बढ़ती कीमतों पर गवर्नमेंट के विरूद्ध राष्ट्र भर में विरोध प्रदर्शन के लिए शिवसेना का भी समर्थन मांगा था. शिवसेना राज्य  केंद्र दोनों में अपने सहयोगी दल बीजेपी की ज्यादातर मसलों पर घोर निंदा करती नजर आती है. लेकिन हिंदुस्तान में शामिल ना होने के पीछे बीजेपी के चाणक्य यानि अमित शाह का एक फोन कॉल बताया जा रहा है.

सूत्रों के मुताबिक पार्टी के कुठ सीनियर नेता  कार्यकर्ता भी चाहते थे कि हिंदुस्तान बंद में कांग्रेस पार्टी  एनसीपी का शिवसेना समर्थन करे. लेकिन बंद से अच्छा एक दिन पहले दिल्ली से भजपा अध्यक्ष  मुंबई में महाराष्ट्र CM देवेंद्र फड़नवीस ने फोन कॉल कर उन्हे ऐसा करने से मना किया जिसपर शिवसेना को अपने कदम पीछे करने पड़े.

कांग्रेस पार्टी के अनुरोध को शिवसेना ने ठुकरा दिया  एक प्रेस कांफ्रेंस में कांग्रेस पार्टी अध्यक्ष अशोक चव्हाण ने संवाददाताओं को बताया कि कांग्रेस पार्टी ने शिवसेना से बंद में शामिल होने का आग्रह किया था. चव्हाण ने बोला कि हमें उम्मीद है कि शिवसेना हमारा समर्थन करेगी क्योंकि ऑयल कीमतों में बढ़ोतरी के विरूद्ध अब खुलकर आने के लिए मैंने पर्सनल तौर पर शिवसेना के राज्यसभा सदस्य संजय राउत से बात की है  हमे उनके जवाब का इंतजार है.

वहीं,कांग्रेस के आग्रह पर जवाब देते हुए संजय राउत ने भी बताया कि शिवसेना बंद में भाग नहीं लेगी जबकि राज ठाकरे की मनसे ने बोला कि वह बंद में भाग लेगी. बताया जा रहा है कि शिवसेना ने पार्टी को कांग्रेस पार्टी के हिंदुस्तान बंद को समर्थन देने से साझेदारी की गरिमा को बनाये रखने के लिए किया है. महाराष्ट्र  केंद्र दो ही गवर्नमेंट में वो सहयोगी दल के तौर पर शामिल हैं.

कांग्रेस के मुताबिक इस बंद के जरिए केंद्र गवर्नमेंट को जगाने के लिए 21 राजनीतिक पार्टियों का साथ उन्हे मिल रहा है. कांग्रेस पार्टी ने दावा किया है कि हिंदुस्तान बंद को समाजवादी पार्टी , बहुजन समाज पार्टी, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी पार्टी, डीएमके, राष्ट्रीय जनता दल, मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी, इंडियन कम्युनिस्ट पार्टी, जनता दल सेक्युलर, राष्ट्रीय लोकदल, झारखंड मुक्ति मोर्चा, एमएनएस  कई अन्य दल समर्थन कर रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *