Breaking News

वो 10 बातें जिन्हें अक्सर गलत समझ कर फंस जाते हैं मर्द

ज्यादातर मर्दों के साथ ऐसा होता होगा कि वे अपनी पत्नी, गर्लफ्रेंड या फ्रेंड की बातों का सही मतलब नहीं पाते। जैसे कि जब वो बोलती हैं ‘कुछ नहीं’। महिलाओं का किसी बात के जवाब में यह कहने का मतलब है कि कुछ न कुछ तो जरूर है और आपको उसे खुद से समझना होगा। अगर आपने उनकी बात को नजरअंदाज कर दिया तो आपकी खैर नहीं।

Image result for वो 10 बातें जिन्हें अक्सर गलत समझ कर फंस जाते हैं मर्द

क्या मैं मोटी लग रही हूं? इस सवाल का जवाब हां में तो आप दे ही नहीं सकते। अगर आपने हां बोल दिया तो वो समझ ने लगती हैं कि अब आप उन्हें खूबसूरत नहीं समझते।

जैसी तुम्हारी मर्जी। आपके किसी सवाल का जवाब अगर वो ये कह कर देती हैं तो इसे उनकी हामी समझने की गलती मत करिएगा। असल में इसका मतलब होता है कि नहीं, मैं नहीं चाहती तुम ये करो।

ठीक है। अगर किसी बहस के दौरान वो ये शब्द बोल दे तो इसका ये मतलब मत समझिएगा कि वो आपकी बात से सहमत हो गई है। बल्कि इसका मतलब है कि आप हार चुके हैं और बहस खत्म।

‘तुम सुन भी रहे हो?’ खबरदार जो उनकी बात न सुनने की हिम्मत भी की तो। वरना लंबे चौ़ड़े भाषण से आपको कोई नहीं बचा सकता।

‘बस पांच मिनट’, इसका तो मतलब ही है कि कम से कम 30-40 मिनट तो लगने ही हैं उन्हें तैयार होने में। और अगर ये पांच मिनट टीवी का रिमोट देने के लिए कहा गया, तब तो वो कभी नहीं होने वाला। पांच क्या पचास मिनट में भी नहीं, जब तक उनका पसंदीदा सीरियल आ रहा है।

‘तुम जहां चाहो हम वहां चल सकते हैं’, इसे सुनकर आपको लगेगा कि आप अपनी मर्जी की जगह उन्हें लेकर जा सकते हैं पर असल में इसका मतलब है कि जहां उन्हें अच्छा लगे या उनकी पसंदीदा जगह हो, वहीं लेकर जाएं। जाहिर है, इसे आपको खुद ही समझ ना होगा।

‘ये सब तुम्हें अभी ही करना है?’ ये सवाल नहीं बल्कि एक ऑर्डर होता है कि जो भी कर रहे हो, उसे बंद करदो।

‘हमें बात करने की जरूरत है।’ इसका मतलब आप गए! अब ऐसी कोई बात होने वाली है जो या तो आपकी क्लास लगा देगी या आपकी परेशानी बढ़ा देगी।

‘मैं परेशान नहीं हूं’, इसका मतलब है कि वो परेशान है और आप उस बात का पता लगाइए कि क्यों परेशान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *