Breaking News

यातयात व्यवस्था मैं सुधार का परिणाम एक सप्ताह में नहीं तो होगी कार्यवाही। प्रमुख सचिव गृह

स्टार एक्सप्रेस।
शासन द्वारा प्रदेश की यातायात व्यवस्था को और अधिक सुदृढ़ एवं चुस्त-दुरूस्त बनाते हुये उसे सुचारू रूप से संचालित किये जाने के लिये कार्ययोजना बनाकर कार्यवाही किये जाने के निर्देश दिये गये है। इसके लिये यातायात विभाग को अतिरिक्त पुलिसकर्मी एवं अन्य जरूरी संसाधन उपलब्ध कराये जायेंगे। लखनऊ नगर के लिये शासन के निर्देश पर 600 से अधिक अतिरिक्त पुलिस कर्मी उपलब्ध कराये गये है लखनऊ नगर की यातायात व्यवस्था को सख्ती से दुरूस्त करने के लिये पुलिस महानिरीक्षक, लखनऊ जोन तथा नोएडा व गाजियाबाद की यातायात व्यवस्था के लिये पुलिस महानिरीक्षक, मेरठ को विशेष रूप से जिम्मेदारी सौंपी गयी है। इन नगरों की यातायात व्यवस्था में एक सप्ताह में आपेक्षित सुधार परिलक्षित होने के भी निर्देश दिये गये है।
प्रमुख सचिव, गृह देबाशीष पण्डा एवं पुलिस महानिदेशक, एस0 जावीद अहमद की अध्यक्षता में आज कमाण्ड सेंटर एनेक्सी में आयोजित उच्च स्तरीय बैठक में इन दोनों नगरों की ट्रैफिक व्यवस्था की वर्तमान स्थिति एवं जरूरतों की गहन समीक्षा की गयी। यह भी निर्देश दिये गये है कि लखनऊ जिले के वरिष्ठ पुलिस अधिकारी मण्डलायुक्त से मिलकर यथाशीघ्र प्रभावी परिणामजनक कार्यवाही सुनिश्चित कराये।
बैठक में बताया कि शासन के निर्देश पर लखनऊ नगर की यातायात व्यवस्था को और अधिक सुदृढ़ बनाये जाने हेतु 300 कांस्टेबिल, 225 हेड कांस्टेबिल, 26 उपनिरीक्षक एवं 50 होमगार्ड अतिरिक्त जनशक्ति के रूप में उपलब्ध करा दिये गये है। यातायात नियमों के प्रति जनजागरूकता अभियान भी चलाये जाने के निर्देश दिये गये है। शासन द्वारा यह भी अपेक्षा की गयी है कि ऐसी कार्यवाही की जाये की धरना प्रदर्शन आदि के अवसर पर शहर में जाम की स्थिति उत्पन्न न होने पाये। अधिक यातायात के दवाब के समय पुलिस क्षेत्राधिकारियों को भी यातायात सुचारू संचालन की जिम्मेदारी सौंपने के निर्देश दिये गये है। मार्ग अवरोध कर रहे अनाधिकृत रूप से खड़े वाहनों को हटाये जाने के लिये गाड़ियोें को उठाने वाले वाहनों (टो वैन) की संख्या बढ़ाये जाने के भी निर्देश दिये गये है। यातयात के सुगम संचालन हेतु नगर में भारी वाहनों के प्रवेश के निर्धारित समय को सख्ती से पालन कराने, वाहनों को निर्धारित पार्किंग स्थल पर खड़ा किये जाने एवं आवश्यकतानुसार नये पार्किंग स्थल चिन्हित किये जाने के भी निर्देश दिये गये है ताकि जाम की स्थिति न उत्पन्न हो। यातायात संचालन में बाधा उत्पन्न करने वाले रोड डिवाइडर पर बने अनावश्यक कट यथाशीघ्र बंद किये जाने के भी निर्देश दिये गये है। यातायात संकेतको के सुचारू संचालन की व्यवस्था भी सुनिश्चित करने के लिये कहा गया है। बैठक में गृह सचिव कमल सक्सेना एवं मणि प्रसाद मिश्र, अपर पुलिस महानिदेशक, कानून-व्यवस्था दलजीत चैधरी, अपर पुलिस महानिदेशक, यातायात अनिल अग्रवाल, पुलिस महानिरीक्षक, लखनऊ जोन ज़की अहमद, पुलिस महानिरीक्षक, मेरठ जोन श्री आलोक शर्मा, पुलिस महानिरीक्षक, स्थापना विपुल कुमार, पुलिस उपमहानिरीक्षक, लखनऊ जोन डी0के0 चैधरी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, लखनऊ राजेश पाण्डेय के अलावा गृह एवं पुलिस विभाग के अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने भाग लिया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *