Tuesday , June 22 2021
Breaking News

बिहार में 4 लोकसभा सीटों पर वोटिंग जारी

लोकसभा चुनाव के पहले चरण में बिहार की चार लोकसभा सीटों पर वोट डाले जा रहे हैं. इनमें औरंगाबाद, गया, नवादा और जमुई के लिए वोट डाले जाएंगे. प्रमुख चेहरों की बात करें तो गया से बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और हिंदुस्तान आवाम मोर्चा (HAM) सुप्रीमो जीतन राम मांझी, जमुई से लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) सुप्रीमो रामविलास पासवान के बेटे चिराग पासवान और नवादा सीट से बाहुबली नेता सूरजभान सिंह के भाई चंदन सिंह लोजपा के टिकट पर चुनाव लड़ रहे हैं.

>> जेडीयू प्रवक्ता राजीव रंजन ने चार के चार सीट जीतने का दावा किया है. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार की उपलब्धता और नरेंद्र मोदी की लहर से लोगों के मन में एनडीए को जिताने का भाव बन चुका है. साथ ही उन्होंने कहा कि महागठबंधन नकारात्मक एजेंडे के जरिए बिहार के चुनाव को प्रभावित करने की कोशिश कर रहा था, जिसे जनता ने पहचान लिया है.

>> बिहार की चार लोकसभा सीटों पर 10 बजे तक 13.73 प्रतिशत लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया है. सबसे ज्यादा गया में 19 प्रतिशत लोगों ने वोटिंग किया है. इसके अलावा औरंगाबाद में 13.46, नवादा में 9 और जमुई में 14 प्रतिशत लोगों वोट डाले हैं.

>> नवादा लोकसभा क्षेत्र के बैरिया बीघा बूथ संख्या 220 को बदल कर दूसरे जगह ले जाने पर मतदाताओं ने विरोध किया है. दूर होने के कारण मतदान नहीं करने की बात कह रहे हैं. ग्रामीण बैरियाबीघा मध्य विद्यालय में पुनः बूथ लाने की मांग कर रहे हैं. मतदाताओं का कहना है कि जब तक मतदान केंद्र नहीं बदला जाएगा, तब तक वोट नहीं डालेंगे.

>> पहले दो घंटों में वोटिंग प्रतिशत काफी कम रहा है. नौ बजे तक बिहार की चार लोकसभा सीटों पर तकरीबन पांच फीसदी वोट गिरे हैं. पहले दो घंटे में औरंगाबाद में 5.6, गया में 11, नवादा और जमुई में 3-3 प्रतिशत मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया है.

>> पहले चरण के चुनाव को लेकर सुरक्षा के पुख्ता प्रबंध किए गए हैं. सभी मतदान केन्द्रों पर अर्धसैनिक बलों और बिहार सैन्य बल की तैनाती की गई है.

>> चार लोकसभा क्षेत्रों से कुल 44 प्रत्याशी चुनावी मैदान में भाग्य आजमा रहे हैं, जिसमें हम प्रमुख जीतन राम मांझी, बीजेपी के सुशील कुमार सिंह, लोजपा से चिराग पासवान, भूदेव चौधरी और विभा देवी जैसे दिग्गज शामिल हैं.

>> गया के नक्सल प्रभावित क्षेत्र में भी मतदाना शुरू हो गया है. पोलिंग बूथ पर मतदाताओं की लंबी कतार लगी है. नक्सलियों के वोट बहिष्कार के बाद भी लोग खुलकर मतदान कर रहे हैं.

>> जमुई के झाझा नगर पंचायत के बूथ संख्या 207 पर ईवीएम काम नहीं कर रहा है. मतदाता कतार में खड़े हैं. मतदान शुरू नहीं हो सका है.

>> मुंगेर जिला के जमुई लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र के हवेली खड़गपुर मतदान केंद्र 204 और 205 पर ईवीएम में खराबी होने के कारण अभी तक मतदान शुरू नहीं हो सका है. दोनों केंद्रों पर सुबह से ही लंबी कतारें लगी थी.

>> औरंगाबाद संसदीय क्षेत्र के सिलिया में बूथ नंबर 9 के पास आईडी विस्फोटक मिला है. गया एसएसपी राजीव मिश्रा ने इसकी पुष्टि की है. बम को डिफ्यूज करने का काम जारी है.

बिहार के अपर मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी संजय कुमार सिंह ने बताया कि मतदान सुबह 7 बजे से शुरु होकर शाम 6 बजे तक चलेगा. नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में मतदान 7 बजे से लेकर शाम 4 बजे तक ही चलेगा. पोलिंग से संबंधित कर्मचारी चुनाव आयोग द्वारा आवंटित मतदान केंद्रों पर कल यानी बुधवार को ही पहुंच गए थे.

प्रथम चरण के संसदीय क्षेत्रों के लिए मतदान केंद्रों की कुल संख्या 7486 है, जिसमें औरंगाबाद में 1965 , गया में 1772, नवादा में 1899 और जमुई में 1850 मतदान केंद्र बनाए गए हैं. प्रथम चरण में औरंगाबाद में 737821, गया में 1698772, नवादा में 1892017 एवं जमुई में 1709356 निर्वाचक अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे. औरंगाबाद लोकसभा क्षेत्र के 742 बूथ संवेदनशील हैं, जबकि 421 नक्सल प्रभावित इलाके में हैं.

मतदान को संपन्न कराने के लिए करीब 45000 कार्मिकों को चुनाव ड्यूटी में लगाया गया है. इसके अलावा करीब 350 मतदान केंद्रों पर लाइव वेबकास्टिंग की व्यवस्था की गई है. कई मतदान केंद्रों पर विडियोग्राफी की व्यवस्था भी की गई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *