Tuesday , June 22 2021
Breaking News

पी चिदंबरम ने कहा, शांति नहीं युद्ध चाहती है भाजपा

शिवगंगा (तमिलनाडु) कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने मंगलवार को बोला कि उन्हें शक है कि भाजपा शांति नहीं युद्ध चाहती है व उन्होंने भगवा पार्टी पर अपने घोषणापत्र में “कथित देश सुरक्षा” पर कठोर रुख अपनाने की बात कह कर अपनी गवर्नमेंट की “विफलताओं” को ढंकने की प्रयास करने का आरोप लगाया। चिदंबरम ने अनुच्छेद 370 व 35ए को लेकर भाजपा के रुख पर हमला बोलते हुए बोला कि इन संवैधानिक प्रावधानों को निरस्त करने का सुझाव देना जम्मू व कश्मीर में “बड़ी तबाही” के बीज बो सकता है।

के दौरान बीजेपी के राष्ट्रवाद के मुद्दे का पार्टी कैसे मुकाबला करेगी यह पूछे जाने पर चिदंबरम ने पीटीआई-भाषा को एक इंटरव्यू में बताया, “बीजेपी इस पर तो बोलेगी नहीं कि उसने क्या किया व विफल रही व क्या नहीं कर सकी। ”

उन्होंने कहा, “बीजेपी के घोषणापत्र में नोटबंदी की बात नहीं है। अब वह दो करोड़ नौकरियों की बात नहीं कर रही जो विफलता को स्वीकार करना है। क्योंकि उन्हें इन सारी विफलताओं को छिपाना है इसलिए वह जिसे देश सुरक्षा कह रही है उस पर कठोर रुख दिखा रही है। ”

उन्होंने बोला कि यूपीए के 10 वर्ष के शासन के दौरान हिंदुस्तान पूरी तरह सुरक्षित था जहां भारत-पाकिस्तान या चाइना के बीच युद्ध का कोई खतरा नहीं था।

चिदंबरम ने कहा, “ऐसा कोई भय नहीं था कि किसी दिन, किसी भी वक्त हिंदुस्तान व पाक के बीच युद्ध छिड़ जाएगा। इसलिए यह कहना कि केवल भाजपा हिंदुस्तान को सुरक्षित रख सकती है पूरी तरह बकवास है। ” उन्होंने कहा, “असल में यह भाजपा के कड़े व बढ़-चढ़ कर किए गए दावे हैं जिससे सीमा पर तनाव बढ़ गया है। सीमा एरिया में रह रहे लोग भय में जी रहे हैं कि युद्ध किसी भी समय प्रारम्भ हो सकता है। मुझे शक है कि भाजपा युद्ध चाहती है। मुझे नहीं लगता कि वह शांति चाहती है। वे एक युद्ध चाहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *