Tuesday , June 22 2021
Breaking News

संहिता का उल्लंघन कर रहे ये नेता, पूर्व आर्मी चीफ ने इस कारण सीएम योगी को बताया देशद्रोही

चुनाव आयोग के आदेशों का बीजेपी पर कोई असर नहीं पड़ रहा है। बीजेपी के नेता और मोदी सरकार के मंत्री लगातार आचार संहिता का अल्लंघन कर रहे हैं। यूपी के सीएम योगी के बाद केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने चुनाव आयोग को ठेंगा दिखाया है।

मुख्तार अब्बास नकवी का एक कथित वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें वह ‘मोदी जी की सेना’ कहते नजर आ रहे हैं। बताया जा रहा है कि रामपुर से बीजेपी के टिकट पर चुनाव लड़ रही पूर्व अभिनेत्री जया प्रदा के समर्थन में आयोजित एक सभा के दौरान मुख्तार अब्बास नकवी यह बयान दिया है।

रामपुर में एक रैली को संबोधित करते हुए नकवी ने कहा कि मोदी की सेना तो आतंकवादियों को उनके घरों में घुस कर मार रही है। इस बयान के सामने आने के बाद चुनाव आयोग में शिकायत की गई। जिसके बाद उनके खिलाफ नोटिस जारी किया गया। चुनाव आयोग ने उत्तर प्रदेश चुनाव आयोग से इस बयान पर रिपोर्ट मांगी है। इस रिपोर्ट में बयान की वीडियो रिकोर्डिंग भी शामिल की जाएगी। जिसके बाद बयान की जांच होगी और विशेषज्ञों की टीम बारीकी से इसका अध्ययन करेगी। इसके बाद कार्रवाई को लेकर किसी तरह का फैसला लिया जाएगा।

बता दें कि इससे पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी भारतीय सेना को ‘मोदी की सेना’ कहकर संबोधित किया था। योगी ने कहा था कि मोदी जी की सेना ने आतंकियों को घर में घुसकर मारा है. जिसपर कई विपक्षी पार्टियों ने सवाल उठाया था। वहीं चुनाव आयोग ने इस बयान को गंभीरता से लेते हुए नोटिस जारी किया था।

दूसरी ओर इनके ही पार्टी के नेता और पूर्व आर्मी चीफ वी के सिंह ने भी सीएम योगी के बयान ‘मोदी की सेना’ का विरोध किया था। उन्होंने कहा था कि भारतीय सेना मोदी की सेना नहीं है। उन्होंने आगे कहा था कि इस तरह के बयान देने वाले नेता गलत ही नहीं बल्कि देशद्रोही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *