Thursday , June 24 2021
Breaking News

इस कारण रूस ने आर्कटिक सैन्य अड्डे पर की मिसाइल लॉन्चर और हवाई रक्षा प्रणालियां तैनात

रूस ने आर्कटिक सैन्य अड्डे पर मिसाइल लॉन्चर और हवाई रक्षा प्रणालियां तैनात की है ताकि वह संसाधनों से संपन्न इस ध्रुवीय क्षेत्र पर अपनी ताकत का प्रदर्शन कर सके।

सेवेर्नी क्लीवर नाम के इस सैन्य अड्डे को सफेद, नीले और लाल रंगों से रंगा गया है जो रूस के राष्ट्रीय ध्वज के रंग हैं। अड्डे को इस तरीके से बनाया गया है कि सैनिक सड़कों पर धूमे बिना उसके सभी केंद्रों तक पहुंच सके क्योंकि यहां सर्दियों में तापमान कभी-कभी शून्य से नीचे 50 डिग्री सेल्सियस भी चला जाता है।

इस सैन्य अड्डे में 250 सैनिक वायु और समुद्री निगरानी सुविधाओं और जहाज रोधी मिसाइलों का रखरखाव करने के लिए स्थायी रूप से तैनात रहते हैं। सैन्य अड्डे के कमांडर लेफ्टिनेंट कर्नल व्लादिमीर पाश्चेनिक ने कहा, ”हमारा काम वायु और उत्तरी समुद्री मार्ग की निगरानी करना है।

रूसी सैन्य अकादमी में हुआ विस्फोट, धमाके में तीन लोग घायल

हमारे पास सभी सुविधाएं मौजूद हैं और हम आराम से रह रहे हैं।” रूस अकेला देश नहीं है जो आर्कटिक के हिस्सों पर अपना अधिकार जताने की कोशिश कर रहा है। इस क्षेत्र में पिघल रही बर्फ ने संसाधनों की तलाश करने और नए समुद्री मार्ग बनाने के अवसरों का रास्ता खोल दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *