Breaking News

तकनीक के उपयोग से दुनिया मे गरीबी और असमानता को दूर किया जा सकता है। अखिलेश यादव

स्टार एक्सप्रेस।
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि वर्तमान में दुनिया के सामने तमाम चुनौतियां मौजूद हैं। पर्यावरण को बचाना, लोगों को पौष्टिक आहार तथा सस्ती दरों पर दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित कराना बड़ी चुनौतियां है। उन्होंने युवा पीढ़ी से इसका समाधान ढूंढ़ने का आह्वान किया है। उन्होंने कहा कि पूरा विश्व तेजी से ग्लोबल विलेज के रूप में परिवर्तित हो रहा है। ऐसे में एक देश की समस्या से दूसरा देश अछूता नहीं है।उन्होंने दुनिया के सामने व्याप्त चुनौतियों का मिल-जुल कर सामना करने पर बल दिया। 
मुख्यमंत्री आज भुवनेश्वर,ओडिसा में ‘किट इन्टरनेशनल माॅडल यूनाइटेड नेशन्स-2015‘ कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश देश का सर्वाधिक जनसंख्या वाला राज्य है। इसके सामने कई गम्भीर चुनौतियां भी हैं। राज्य सरकार ने इन चुनौतियों का मुकाबला करते हुए उत्तर प्रदेश की जनता को विकास से जोड़कर तमाम समस्याओं पर काबू पाने में सफलता हासिल की है।
मुख्यमंत्री ने वर्ष 2013 में इलाहाबाद में सफलतापूर्वक आयोजित किए गए कुम्भ मेले का जिक्र करते हुए कहा कि दुनिया के सबसे बड़े इस मेले के लिए एक नया शहर बसाया गया, जिसमें देश एवं विदेश के श्रद्धालुओं ने भाग लिया। राज्य सरकार के प्रबन्धन की सराहना पूरी दुनिया में हुई। उन्होंने कहा कि बड़ा काम बड़े दिलवाले ही कर पाते हैं। छोटे दिलवाला कभी बड़ा आदमी नहीं बन सकता। उत्तर प्रदेश की जो तस्वीर टी0वी0 और न्यूज चैनलों पर दिखाई जाती है, उससे उत्तर प्रदेश अलग है।अखिलेश यादव ने कहा कि उत्तर प्रदेश विकास के मामले में दूसरे राज्यों से बहुत आगे जा चुका है। दुग्ध उत्पादन सहित तमाम कृषि उपज में भी उत्तर प्रदेश अग्रणी राज्य है। चूंकि प्रदेश की आबादी ज्यादा है, इसलिए आंकड़े भी ज्यादा हैं। उन्होंने कहा कि मौजूदा समय में हमारे बीच मुकाबला नहीं, बल्कि दूसरे लोगों के बीच मुकाबला है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि आज दुनिया ने बहुत प्रगति कर ली है। कुछ वर्ष पहले कैसेट और सी0डी0 का दौर था, लेकिन आज इन्टरनेट का दौर है। आज हर जानकारी आॅनलाइन उपलब्ध है। इन्टरनेट विशेषज्ञों को साथ लेकर तकनीकी के उपयोग से दुनिया में व्याप्त गरीबी एवं असमानता को दूर किया जा सकता है। गरीबों को पौष्टिक भोजन उपलब्ध कराना हम सबके समक्ष गम्भीर चुनौती है। 
मुख्यमंत्री ने के0आई0आई0टी0, विश्वविद्यालय के पूरे कैम्पस का भ्रमण करने के उपरान्त इसकी प्रशंसा करते हुए कहा कि यह भव्य होने के साथ विशाल भी है। यहां देश-विदेश के छात्र शिक्षा ग्रहण करने आते है। छात्र जीवन के पल हमेशा यादगार होते हैं। यहां अध्ययन करने वाले छात्र भौगोलिक सीमा से ऊपर उठ कर आपस में मिलते हैं। उन्होंने छात्रों को बधाई देते हुए भविष्य की चुनौतियों का सामना एकजुट होकर करने का सुझाव दिया।अखिलेश यादव ने कहा कि देश व दुनिया के सामने मौजूद चुनौतियों का सामना करने में के0आई0आई0टी0 जैसी संस्थाएं महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकती हैं। यहां अध्ययन करने वाले छात्र पूरे विश्व की वर्तमान राजनीतिक गतिविधियों को अच्छी तरह समझते हैं।उन्होंने आशा व्यक्त की कि भविष्य में सभी विद्यार्थी आगे बढ़ेंगे और अपनी क्षमताओं से दुनिया की तमाम मुश्किलांे का समाधान करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *