Breaking News

आखिरी वनडे में करारी हार का बदला लेने उतरेंगे ये बड़े खिलाड़ी

आज हेमिल्टन में भारत बनाम न्यूजीलैंड का वनडे सीरीज का चौथा मैच खेला गया। इस मैच में भारत को 8 विकेट से हार का सामना करना पड़ा है। मालूम हो कि भारत ने कीवियों को पहले बल्लेबाजी करते हुए 93 रनों का मामूली लक्ष्य दिया था। इस आसान लक्ष्य को उन्होंने 14.4 ओवर में ही उन्होंने भारत को हरा दिया है।

टॉस हारे- भारतीय टीम के लिए मुसीबत उसी वक्त खड़ी हो गई थी जब वो टॉस हारे। कीवियों ने टॉस जीत लिया था और पहले गेंदबाजी करने का निर्णय ले लिया था। उन्होंने पिच का पूरा फायदा उठाया। बता दें कि वहां कीवी 2 साल से एक बार भी नहीं हारे हैं। उन्होंने हेमिल्टन में अपनी जीत का रिकॉर्ड बरकरार रखा था। भारतीय टीम ने वहां पहले बल्लेबाजी कर 100 रन भी नहीं बनाए।

विराट की गैरमौजूदगी- इन दिनों भारतीय कप्तान विराट कोहली छुट्टी पर हैं। उनको बीसीसीआई ने आराम दिया है। इस वजह से मिडल ऑर्डर खराब हो गया था। केदार जाधव औक दिनेश कार्तिक दोनों ही 0-0 पर आउट हो गए। तो वहीं सबसे ज्यादा रन बनाए भी तो भारतीय स्पिनर चहल ने। उन्होंने सबसे ज्यादा 18 रन बनाए।

बोल्ट की धाकड़ गेंदबाजी – कीवी सेना के तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट ने अपनी टीम के लिए बेस्ट प्रदर्शन दिया। उन्होंने केवल 21 रन दे कर 5 विकेट चटका दिए। ग्रैंडहोम ने उनका बखूबी साथ दिया। उन्होंने भी मुख्य 3 विकेट लिए। उन्होंने 26 रन दे कर 3 विकेट लिए।

धोनी के न होने का नुकसान – मांसपेशियों में खिंचाव से धोनी आज प्लेइंग 11 में नहीं थे इस वजह से उनके अनुभव की कमी काफी खली है। भारतीय बल्लेबाजों पर अकेले बोल्ट ने ही इतना परेशान कर दिया कि 92 रनों पर ही समेट के रख दिया। तो वहीं धोनी की जगह उतरे कार्तिक पूरी तरह फ्लॉप दिखे।

शमी की कमी खली- पेस अटैक की बात करें तो भारतीय टीम का पेस अटैक भी आज कमजोर दिखा। केवल भुवनेश्वर कुमार आज कुछ योगदान देते दिखे। बाकी सारे गेंदबाज कमाल नहीं कर सके। बल्लेबाजों के प्रदर्शन से ही आज भारत का मनोबल गिरता दिखा था। इस वजह से पेस अटैक के लिए शमी को याद किया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *