Breaking News

अगर बीजेपी चुनाव से पहले हिंदू राष्ट्रवाद के मुद्दे पर जोर देती है तो भारत में हिंसा होने की आशंका

अमेरिका की एक रिपोर्ट सामने आई है जिसमे दावा किया गया है कि अगर बीजेपी चुनाव से पहले हिंदू राष्ट्रवाद के मुद्दे पर जोर देती है तो भारत में सांप्रदायिक हिंसा होने की आशंका है. ये रिपोर्ट उस मूल्यांकन का हिस्सा है जिसमें अमेरिका की इंटेलिजेंस एजेंसियां दुनियाभर में पैदा होने वाले खतरों को मापती है. इस रिपोर्ट को अमेरिकी सीनेट की सेलेक्ट कमेटी के सामने पेश किया गया है, जिसे डायरेक्टर ऑफ नेशनल इंटेलिजेंस डैन कोट्स ने तैयार किया है.

अमेरिका में हर साल की शुरुआत में वहां की सभी इंटेलिजेंस एजेंसियां एक रिपोर्ट जारी करती हैं, जिसमें दुनियाभर में होने वाली सभी घटनाओं का मूल्यांकन किया जाता है. इस रिपोर्ट को तैयार करने में अमेरिकी खुफिया एजेंसी CIA की डायरेक्टर जीना हास्पेल, एफबीआई डायरेक्टर क्रिस्टोफर रे और डीआईए के डायरेक्टर रॉबर्ट एश्ले भी शामिल हैं.

अपने लिखित बयान में डैन कोट्स ने कहा है, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पहले कार्यकाल के दौरान बीजेपी शासित राज्यों में सांप्रदायिक तनाव गहरा हुआ और राज्यों में कुछ हिंदूवादी नेताओं ने इसे हिंदू राष्ट्रवाद का संकेत मान अपने समर्थकों में ऊर्जा भरने के लिए छिटपुट हिंसा का सहारा लिया. चुनाव से पहले इस प्रकार की हिंसा भारत में इस्लामिस्ट टेररिस्ट संगठनों को बढ़ावा देने के लिए प्रोत्साहित कर सकती है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *