Breaking News

ये रास्ता साफ़ न होने से नाराज़ आरएसएस ने मोदी गवर्नमेंट पर साधा निशाना

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का रास्ता साफ़ न होने से नाराज़ आरएसएस ने अब केंद्र की मोदी गवर्नमेंट पर सीधे तौर पर निशाना साधना प्रारम्भ कर दिया है आरएसएस का मानना है कि मोदी गवर्नमेंट के रवैये से ऐसा लगता है कि केंद्र में फिर से गवर्नमेंट बनने के बावजूद वह मंदिर निर्माण को लेकर कोई पहल नहीं करेगी

इस बारे में संघ के सरकार्यवाह भैया जी जोशी ने प्रयागराज के कुंभ मेले में हुए एक प्रोग्राम में केंद्र की मोदी गवर्नमेंट पर इशारों में निशाना साधा  व्यंग्य करते हुए बोला कि राम मंदिर वर्ष 2025 में बनेगा

भैया जी जोशी ने इस प्रोग्राम में राम मंदिर पर बोलते हुए बोला कि अयोध्या में वर्ष 2025 में जब राम मंदिर का निर्माण प्रारम्भ हो जाएगा तो राष्ट्र तेजी से विकास करने लगेगा उनके मुताबिक़ राष्ट्र में विकास की गति उसी तरह बढ़ेगी, जैसी वर्ष 1952 में सोमनाथ में मंदिर निर्माण के बाद प्रारम्भ हुई थी

सरकार पर साधा निशाना
इस प्रोग्राम में भैया जी जोशी ने साफ़ तौर पर बोला कि राम मंदिर निर्माण को लेकर अब भी बहुत सी चुनौतियां हैं, जिनसे निपटने की ज़रूरत है उनके मुताबिक़ अयोध्या में राम मंदिर सिर्फ एक मंदिर का निर्माण नहीं है, बल्कि यह करोड़ों हिन्दुओं की आस्था और सम्मान से भी जुड़ा हुआ है

कुंभ मेले में हरिद्वार की संस्था दिव्य प्रेम सेवा मिशन द्वारा आयोजित सेमिनार में संघ के सर कार्यवाह भैया जी जोशी ने सिर्फ मंदिर ही नहीं बल्कि विकास के मुद्दे पर भी मोदी गवर्नमेंट पर जमकर हमला बोला उन्होंने मोदी गवर्नमेंट के विकास के दावों की भी हवा निकाली  बोला कि विकास को गति तब मिलेगी, जब वर्ष 2025 में अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण होगा उन्होंने विकास के उदाहरण के रूप में 1952 के वर्ष का जिक्र किया, जब पंडित नेहरू की अगुआई में कांग्रेस पार्टी की निर्वाचित गवर्नमेंट बनी थी

भैयाजी जोशी ने मोदी राज में हिंदुस्तान के फिर से विश्वगुरू बनने की राह पर चलने के दावों को भी नज़रअंदाज किया  व्यंग्य करते हुए बोला कि हिंदुस्तान तकरीबन डेढ़ सौ वर्ष बाद विश्‍वगुरू बन जाएगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *