Breaking News

मानव मिशन के लिए कैबिनेट ने दी ये मंजूरी

भारतीय गगनयान के पहले मानव मिशन के लिए कैबिनेट ने 10 हजार करोड़ रुपए के बजट की मंजूरी दी है. केंद्रीय विधि मंत्री रविशंकर प्रसाद ने बताया अभियान के तहत 3 एस्ट्रोनॉट 7 दिन तक अंतरिक्ष में रह सकेंगे. जानकारी के लिए बता दे इससे पहले 1984 में राकेश शर्मा अंतरिक्ष यात्रा करने वाले पहले इंडियन थे, लेकिन वह रूस का मिशन था.

स्वदेशी ही बनाएंगे गगनयान

सूत्रों से प्राप्त जानकारी अनुसार पीएम नरेंद्र मोदी ने इसी वर्ष स्वतंत्रता दिवस पर इस गगनयान मिशन का ऐलान किया था. जिसमे उन्होंने बताया था- 2022 में आजादी के 75 वर्षपूरे होने से पहले हिंदुस्तान अंतरिक्ष में मानव मिशन के साथ गगनयान भेजेगा. इसरो के एक ऑफिसर की माने तो इसके के लिए डिजाइन तैयार हो चुका है. अभी हम अपनी क्षमताओं के आकलन में लगे हैं. समूचे सिस्टम को अधिक से अधिक स्वदेशी बनाएंगे.

3 अंतरिक्ष यात्रियों को भेजा जाएगा

जानकारी के लिए बता दे इसरो गगनयान के लिए आंध्रप्रदेश के श्रीहरिकोटा स्पेस पोर्ट पर अपना सबसे बड़ा रॉकेट जीएसएलवी मार्क 3 स्थापित करना चाहता है. इसके जरिए 3 अंतरिक्ष यात्रियों को स्पेस में भेजा जाएगा. स्पेस की एक एजेंसी अपनी इस योजना को अगले 40 महीनों के भीतर पूरा करना चाहती है. शुरुआती चरणों के दौरान एजेंसी पहले दो मानव रहित अंतरिक्ष यान भेजना चाहती है. इसके बाद मानवयुक्त अंतरिक्ष यान भेजने की योजना है, जो 5-7 दिनों तक पृथ्वी की निचली कक्षा में रहेगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *