Breaking News

तमिलनाडु में पुराने पंबन पुल की जगह पर नए पुल का निर्माण

 तमिलनाडु में पुराने पंबन पुल के जगह पर नए पुल के निर्माण का निर्णय लिया गया है. इसके साथ ही तूफान में तबाह हो चुकी रेलवे लाइन भी फिर से बिछाई जाएगी. सोमवार को रेल मंत्रालय ने इन परियोजनाओं को विशेष मंजूरी दी है. इनके पूरा होने पर रामसेतु पहुंचना सरल हो जाएगा. जानकारी के लिए बता दें मौजूदा पंबन पुल तमिलनाडु में मुख्य भूमि को रामेश्वरम से जोड़ता है, जहां से धनुषकोडि में रामसेतु तक रास्ता जाता है. पंबन पुल 1914 में यातायात के लिए खोला गया था. इसकी विशेषता यह है कि इसके ऊपर से ट्रेनें  नीचे से जलपोत गुजर सकते हैं. यह पुल अब अपनी आयु पूरी कर चुका है.

ख़र्च होंगे इतने करोड़

जानकारी के लिए बता दें रामेश्वरम तक की 17.20 किलोमीटर लंबी रेलवे लाइन 1964 में आए समुद्री तूफान में बह गई थी. तबसे किसी भी गवर्नमेंट ने उसे दोबारा बनाने की आवश्यकता नहीं समझी. अब इन दोनों का एक साथ निर्माण होगा. इसमें पुल पर ढाई सौ करोड़ और रेलवे लाइन पर सवा दो सौ करोड़ रुपए खर्च का अनुमान है.

ऑटोमैटिक होगा संचालन

अधिकारीयों कि माने तो पुल का निर्माण आधुनिकतम प्रौद्योगिकी से होगा, जिनका प्रयोग केवल यूरोप में हुआ है. पुराने पुल से नए पुल में बीच का भाग लिफ्ट की भांति सीधा ऊपर-नीचे होगा जिससे ऊंचे जहाज सरलता से गुजर सकें. इसके लिए पुल की ऊंचाई तीन मीटर अधिक रखी जाएगी. पुराने पुल को खोलने बंद करने की प्रक्रिया मैन्युअल है. जबकि नए पुल का संचालन पूर्णत ऑटोमैटिक होगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *