Breaking News

पर्थ टेस्ट के बीच हुए वार्तालाप को लेकर आ रही अलग-अलग तरह की प्रतिक्रियाएं

पर्थ टेस्ट में  के बीच हुए वार्तालाप को लेकर अलग-अलग तरह की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं कुछ लोग विराट के समर्थन के साथ ही उनके विरूद्ध हैं तो कुछ लोग इस घटना को खेल भावना के दायरे के भीतर का मामला भी बता रहे हैं इसी मुद्दे पर ने शुक्रवार को बोला कि क्रिकेट में स्लेजिंग नयी बात नहीं है  यह इस खेल में आरंभ से चला आ रहा है

किरमानी का यह बयान एक्टर नसीरुद्दीन शाह के उस बयान के बाद आया है जिसमें उन्होंने ऑस्ट्रेलिया दौरे पर कप्तान विराट कोहली के आचरण की आलोचना की थी नसीर ने भी इस मामले में विराट कोहली को घमंडी कह दिया था

नसीर के बयान पर यह बोले किरमानी
किरमानी ने बोला कि मैदान में कोहली का आक्रामक आचरण नैसर्गिक रिएक्शन है उन्होंने कहा, ‘‘नसीरुद्दीन शाह  हर किसी का अपना मत हो सकता है चीजों को देखने का हर किसी का अलग नजरिया होता है मैं कोहली पर उनके बयान का विरोध नहीं कर रहा हूं लेकिन हर किसी में कुछ चीजें नैसर्गिक होती है इन नैसर्गिक चीजों को बदला नहीं जा सकता’’ किरमानी ने कहा, ‘‘ दूसरे टेस्ट में भी हम भारी पड़ने वाले थे तभी तीसरे अंपायर ने गलती की, लेकिन हमने ‘जेन्टलमैन’ की भावना से क्रिकेट खेला मुझे इस पर बहुत ज्यादा गर्व हैहमारे समय में भी स्लेजिंग होती थी यह कभी समाप्त नहीं होगा ’’

ऐसा हुआ कुछ विराट  पेन के बीच
विराट  पेन दोनों टीमों के बीच दूसरे क्रिकेट टेस्ट के चौथे दिन मैदान पर शाब्दिक जंग में उलझते दिखे थे जिसके बाद मैदानी अंपायर क्रिस गफाने ने दोनों खिलाड़ियों को प्रातः कालके सत्र में चेतावनी दी जसप्रीत बुमराह के पारी के 71वें ओवर के दौरान दोनों कप्तान को एक दूसरे को कुछ कहते देखा गया कोहली इस समय गेंदबाजी छोर के समीप क्षेत्ररक्षण कर रहे थे गफाने ने इसके बाद हस्तक्षेप किया

यह वार्ता रिकॉर्ड हुई दोनों के बीच
पेन से कोहली ने कहा, ‘‘तुम वह आदमी हो जो कल पराजय गया था तुम आज शांत बनने का कोशिश क्यों कर रहे हो ’’ गफाने ने हस्तक्षेप करते हुए कहा, ‘‘बहुत हो गया, बहुत हो गया ’’ विराट ने कहा, ‘‘चलो खेल खेलो तुम लोग कप्तान हो टिम तुम कप्तान हो ’’ पेन ने जवाब दिया, ‘‘हम सिर्फ बात कर रहे हैं हम कोई अपशब्द नहीं कह रहे विराट खुद को शांत रखो ’’ कोहली ने इसके बाद कुछ बोला जिसे माइक्रोफोन पर सुना नहीं जा सका

एक बार टकराव की नौबत आती लगी
कुछ गेंद बाद दोनों एक बार फिर एक दूसरे से सीना टकराने के करीब पहुंच गए थे जब पेन रन पूरा कर रहे थे  कोहली उनके सामने आ गए कोहली को इसके बाद स्क्वायर लेग अंपायर कुमार धर्मसेना के सामने अपना पक्ष रखते हुए देखा गया पूर्व टेस्ट गेंदबाज डेमियन फ्लेमिंग ने ‘एसईएन’ रेडियो पर कहा, ‘‘मुझे लगता है कि यह इशारा हैं कि कोहली ने अपना धैर्य खोना प्रारम्भ कर दिया है ’’

कॉमेंटटर्स की रही कुछ ऐसी प्रतिक्रिया
इंडियन कमेंटेटर संजय मांजरेकर भी कोहली के बर्ताव से खुश नहीं दिखे ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तानों रिकी पोंटिंग  माइकल क्लार्क ने हालांकि बोला कि दोनों कप्तानों के बीच शब्दों के आदान प्रदान पर उन्हें कोई कठिनाई नहीं है  अब तक सीमा नहीं लांघी गई है हालाकि कई ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों सहित टीम के कोच जस्टिन लैंगर ने इस खेल भावना के दायरे के भीतर की घटना माना इस पर जम कर प्रतिक्रियाएं भी आई हैं

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *