Breaking News

श्रीकांत ने 21 की आयु में की थी अपने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की आरंभ

आज टीम इंडिया के पूर्व सलामी बल्लेबाज कृष्णामचारी श्रीकांत अपना 59वां जन्मदिन मना रहे हैं ये श्रीकांत ही थे जिन्होंने भारतीय टीम में सबसे पहले वनडे मैचों के शुरुआती 15 ओवरों में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी का आगाज किया था वर्ष 2011 में जब भारतीय टीम ने आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप जीता था तब क्रिस श्रीकांत उसी टीम के चयनकर्ता प्रमुख थे श्रीकांत आज भी कई बल्लेबाजों के आदर्श हैं जो आज के दौर में तेजी से रन बनाकर खुद को स्थापित करना चाहते हैं

21 दिसंबर 1959 को चेन्नई (तब मद्रास) में जन्मे श्रीकांत ने अपना अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की आरंभ 21 की आयु में की टेस्ट मैच में भले श्रीकांत ज्यादा सफल नहीं हुए हों, लेकिन वनडे क्रिकेट में वह भारतीय टीम की ओर से सरताज ही बने रहे इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने वाले श्रीकांत लंबे समय तक वनडे में भारतीय टीम के बेस्ट खिलाड़ी बने रहे टेस्ट क्रिकेट में श्रीकांत ने 43 मैचों में 2062 रन बनाए 146 वनडे मैचों में श्रीकांत ने 4091 रन बनाए इसमें 4 शतक  27 अर्धशतक शामिल हैं

83 वर्ल्ड कप फाइनल का यह रिकॉर्ड है श्रीकांत के नाम
1983 में भारतीय टीम जब विश्व विजेता बनी, उसके फाइनल में सबसे ज्यादा रन श्रीकांत ने ही बनाए थे 1989 में उनकी कप्तानी में भारतीय टीम पाक के दौरे पर गई इस सीरीज में ही सचिन तेंदुलकर ने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट की आरंभ की सीरीज के सभी मैच ड्रॉ रहे, लेकिन श्रीकांत बल्लेबाजी में फ्लॉप रहे इसके बाद ही उन्होंने क्रिकेट से संन्यास ले लिया2008 में वह इंडिया के सिलेक्शन पैनल के चेयरमैन बने

श्रीकांत के बारे में एक बार बिशन सिंह बेदी ने बोला था- “जब श्रीकांत बैटिंग करते हैं तो बादल गरजने लगते हैं, आसमान में बिजली चमकने लगती है ” उनके बारे में बोला जाता है कि वे तकनीकी रूप से श्रेष्ठ बल्लेबाज नहीं थे कई बार तो वे साधारण सी गेंद पर ही आउट हो जाते थे इसके बावजूद हिंदुस्तान आक्रामक बल्लेबाजी की आरंभ करने, खासकर वनडे में फील्ड रिस्ट्रिक्शंस का लाभ उठाने, का श्रेय उन्हीं को जाता है

श्रीकांत की कप्तानी में ही सचिन तेंदुलकर ने अपने टेस्ट करियर की आरंभ की थी वे 1983 वर्ल्ड कप के फाइनल में दोनों टीमों  (भारत  वेस्टइंडीज) की ओर से सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी थे वर्तमान में उनके बेटे अनिरुद्ध  आदित्य क्रिकेटर हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *