योगी सरकार की सख्ती : भू-माफिया दिलीप बाफिला की जब्त होंगी अरबों की सम्पत्तियां

स्टार एक्सप्रेस डिजिटल : भू माफिया दिलीप सिंह बाफिला की संपत्तियां जब्त होंगी। योगी सरकार की सख्ती पर पुलिस महकमे ने इसकी कार्रवाई शुरू कर दी है। भू माफिया के साथ उसके परिवारीजनों की भी संपत्तियां जब्त की जाएंगी। पुलिस कमिश्नर ने इस संबंध में एलडीए से दिलीप बाफिला सहित उसके परिवारीजनों की संपत्तियों का विवरण मांगा है।

दिलीप सिंह बाफिला को एलडीए ने अरबों की जमीन दी हैं। 2015 में उसे गोमती नगर विस्तार के सेक्टर एक में बेहद प्राइम लोकेशन पर अरबों की जमीन दी गई थी। उसने कई समितियां बनाकर जमीनों का हेरफेर किया है। कुछ महीने पहले उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई थी। पुलिस अब गैंगस्टर एक्ट के तहत उसके खिलाफ कार्रवाई कर रही है। जिसके लिए उसकी संपत्तियां भी जब्त की जाएंगी। इस कड़ी में पुलिस ने दिलीप तथा उसके परिवारीजनों की संपत्तियों का विवरण मांगा है।

 

पुलिस ने शक्ति नगर इंदिरा नगर निवासी दिलीप सिंह बाफिला, पत्नी घना सिंह बाफिला, बेटे विक्रम सिंह बाफिला, दीप सिंह बाफिला, पुत्री गरिमा सिंह बाफिला, बहू समता सिंह बाफिला तथा भाई त्रिलोक सिंह बाफिला की संपत्तियों का ब्यौरा मांगा है।

गैंगस्टर एक्ट में दिलीप सिंह बाफिला के साथ शामिल प्रवीण सिंह बाफिला की भी संपत्तियों का ब्यौरा मांगा गया है। इनके अलावा उनकी पत्नी हेमा सिंह बाफिला, पुत्र गोपाल सिंह बाफिला, दूसरे पुत्र नमन सिंह बाफिला तथा भाई की पत्नी भावना सिंह की संपत्तियों का भी ब्यौरा मांगा गया है। पुलिस ने इनकी अचल संपत्तियों के विवरण के साथ इनकी अनुमानित कीमत के बारे में भी रिपोर्ट मांगी है।

 

एलडीए ने भू-माफिया दिलीप सिंह बाफिला को गोमतीनगर, गोमतीनगर फेज दो, गोमतीनगर विस्तार, जानकीपुरम, बसंतकुंज तथा रायबरेली रोड स्थित शारदानगर योजना में भी जमीन दी है। उसे सबसे प्राइम लोकेशन की जमीन वर्ष 2015 में तत्कालीन उपाध्यक्ष सतेन्द्र सिंह यादव ने गोमतीनगर विस्तार के सेक्टर एक में दी थी। अकेले इस जमीन की कीमत अरबों रुपए है। उसने एलडीए से जमीन ले ली लेकिन सोसाइटी के पुराने सदस्यों को प्लाट नहीं दिया। नयी कीमत में दूसरे लोगों को करोड़ों में बेच डाला।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button