पानी को तरसते 10 लाख किसानों को होगा फायदा : पीएम मोदी

स्टार एक्सप्रेस डिजिटल  : उत्‍तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले पीएम मोदी ने पूर्वांचल से लेकर पश्चिमी उत्‍तर प्रदेश, मध्‍य और बुंदेलखंड पर सौगातों की बारिश कर दी है। शुक्रवार का दिन बुंदेलखंड के नाम रहा। तीन दिवसीय यूपी दौरे के तहत सबसे पहले महोबा पहुंचे पीएम मोदी ने महोबा, हमीरपुर, बांदा व ललितपुर में 3,240 करोड़ रुपये की अर्जुन सहायक परियोजना, भावनी बांध परियोजना, रतौली बांध परियोजना, मसगांव-चिल्ली स्प्रिंकलर परियोजना का लोकार्पण किया।प्रधानमंत्री आज इस शौर्य भूमि के किसानों-जवानों को कई बेशकीमती सौगातें दे रहे हैं। इनकी कुल लागत करीब 6600 करोड़ है। महोबा में उन्‍होंने जिस अर्जुन सहायक परियोजना का शुभारंभ किया वो चार बांधों को जोड़ने वाली है। उन्‍होंने यहां 3,240 करोड़ की विकास परियोजनाओं का लोकार्पण किया। महोबा के बाद वे झांसी में डिफेन्स कॉरीडोर के पहले प्रोजेक्ट की आधारशिला रखेंगे। यहां टैंक रोधी मिसाइल व हल्के हेलीकाप्टर बनेंगे। यहीं वह मेगा सोलर पार्क समेत सबसे हल्का स्वदेशी हेलीकॉप्टर, वारफेयर सूट समेत तमाम सैन्य आयुध व उपकरण देंगे। इनकी कुल लागत 3414 करोड़ है।

झांसी में प्रधानमंत्री रानी लक्ष्मीबाई के जन्मदिवस समारोह में शामिल होने से पहले रानी झांसी का किला देखेंगे। अंग्रेजों से युद्ध के दौरान रानी जिस स्थान से घोड़े पर सवार होकर कूदी थीं, वह भी देखेंगे। किले के सबसे ऊंचे बुर्ज से वह शहर का नजारा लेंगे। मोदी जो तोहफे देने वाले हैं, उनमें से डिफेंस कॉरीडोर को हटा दें तो ज्यादातर पानी से संबंधित हैं। बुंदेलखंड के सातों जिले दशकों से जलसंकट ग्रस्त रहे हैं। यह योजनाएं 500 से ज्यादा गांवों, 10 लाख से ज्यादा किसानों को लाभान्वित करेंगी। इनमें ललितपुर का भावनी बांध, महोबा की अर्जुन सहायक परियोजना मुख्य हैं।

विधानसभा चुनाव की दहलीज पर खड़े उप्र में चुनावी शंखनाद पहले ही हो चुका है। अब 19 सीटों वाले बुंदेलखंड में मोदी के ताबड़तोड़ दो कार्यक्रम हो रहे हैं। 2017 के विस चुनाव में भाजपा ने यहां की सभी 19 सीटें जीत ली थीं। पार्टी पर इस बार भी वही इतिहास दोहराने का दबाव है। पिछले चुनाव में बुंदेलखंड की दो सीटें महरौनी और राठ भाजपा ने करीब एक लाख वोटों से जीती थीं। दो अन्य सीटें उरई और ललितपुर क्रमश: 80 और 58 हजार से जीती थीं। इस इलाके में भाजपा कोई भी सीट 16 हजार से कम अंतर से नहीं जीती। पानी यहां सबसे बड़ी जरूरत है। जल-संकट दूर करने वाली अरबों की योजनाएं इसीलिए बड़ी तेजी से पूरी की गईं, जिनका लोकार्पण मोदी कल करने वाले हैं।

ये तोहफे मिले
महोबा में 3263 करोड़ की योजनाएं
अर्जुन सहायक परियोजना: 2655 करोड़
रतौली बांध परियोजना: 54 करोड़
मझगवां-चिल्ली सिंचाई परियोजना: 18 करोड़
भावनी बांध परियोजना: 512 करोड़
पांच अन्य परियोजनाएं:24 करोड़
झांसी में 3414 करोड़ की सौगात
600 मेगावाट अल्ट्रामेगा सोलर पार्क: 3013 करोड़
झांसी डिफेंस कॉरिडोर: 400 करोड़
एकता पार्क: 1.30 करोड़

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button