छात्रों ने चलाया मतदाता जागरूकता अभियान, अब घर बैठे दे सकेंगे वोट

स्टार एक्सप्रेस डिजिटल : वर्क फ्रॉम होम के बाद वोट फ्राॅम होम। जी हां, गोरखपुर में करीब 80 हजार बुजुर्ग मतदाता ऐसे हैं जिनकी उम्र 80 वर्ष या उससे ज्यादा है। इन मतदाताओं को घर बैठे वोट डालने की सुविधा मिल सकती है। इसके अलावा 15 हजार दिव्यांग भी इस सुविधा के दायरे में हैं। इस बार विधान सभा चुनाव में इस बार 80 की उम्र पार कर चुके मतदाताओं तथा दिव्यांगजनों को पोस्टल बैलेट की सुविधा होगी। इन श्रेणियों में आने वाले जो भी मतदाता यह सुविधा चाहेंगे तो उन्हें चुनाव अधिकारियों द्वारा मुहैया कराया जाएगा। इसके लिए शर्त है कि ऐसे मतदाताओं का नाम और श्रेणी मतदाता सूची में पहले से ही दर्ज हो।मतदान के दिन सर्वाधिक दिक्कतें बुजुर्ग और दिव्यांग मतदाताओं को होती है। कई मतदान केंद्रों पर बेहतर व्यवस्था न होने से इन दोनों वर्गों के मतदाता मतदान करने जाना ही नहीं चाहते हैं। कभी-कभी तो ऐसा भी होता है कि बुजुर्ग और दिव्यांग मतदाताओं को उनके परिवारीजन कंधे पर बैठाकर मतदान केंद्रों तक ले जाते हैं और जैसे-तैसे उनसे मतदान कराते हैं। पर अब 80 की उम्र पार कर चुके मतदाताओं के साथ ही साथ दिव्यांगजनों को मतदान के लिए मतदान केंद्रों पर मशक्कत नहीं करनी पड़ेगी। निर्वाचन आयोग ने उनके लिए इस बार चुनाव में बेहतर सुविधा की व्यवस्था कराई है। ऐसे मतदाता यदि चाहेंगे तो उनकी इच्छा के अनुसार उन्हें पोस्टल बैलेट उपलब्ध कराए जाएंगे।

इसके लिए अभी से तैयारियां शुरू कर दी गई है। चुनाव कार्यालय से जुड़े लोगों का कहना है कि निर्वाचन आयोग ने यह व्यवस्था दी है कि मतदान के दिन 80 की उम्र पार कर चुके बुजुर्गों और दिव्यांगजनों को पोस्टल बैलेट उपलब्ध कराया जाए ताकि इन दोनों वर्गों के मतदाताओं के मतदान का प्रतिशत बढ़ाया जा सके। इसके लिए बूथ लेबल अधिकारियों द्वारा सभी ऐसे मतदाताओं से फार्म 12 भरवाया जाएगा। उनकी इच्छा के अनुसार उन तक पोस्टल बैलेट पहुंचाया जाएगा। रिटर्निंग आफिसर्स इस पर नजर रखेंगे।

जिले में मतदाता सूची में अब दर्ज दिव्यांग मतदाताओं की सूख्या 15 हजार से अधिक है। जिला निर्वाचन कार्यालय के मुताबिक दिव्यांग मतदाताओं की संख्या भी घट-बढ़ सकती है। बूथ लेवल अधिकारियों द्वारा इस वर्ग के मतदाताओं को लेकर सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए हैं।

बाबू पुरुषोत्तम दास राधा रमण दास कॉलेज में बुधवार को मतदाता जागरूकता अभियान का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि नोडल अधिकारी के डॉ. संजय पाण्डेय ने कहा कि जनता के प्रतिनिधि सेवा की भावना से प्रेरित होने चाहिए। जागरूक मतदाता मजबूत लोकतंत्र का आधार स्तंभ होता है। उन्होने स्वीप तथा एनवीएसपी के सम्बंध मे छात्रों को अवगत कराया। वोटर हेल्पलाइन एप डाउनलोड कराया और ‘सुनो गोरखपुर’ यूट्यूब चैनल के बारे में जानकारी दी। इस अवसर पर मतदान के लिए शपथ दिलाई गई। मतदाता जागरूकता रैली और नुक्कड़ नाटक के माध्यम से मतदान के प्रति जागरूक किया गया। संचालन प्रिया पाण्डेय ने किया। इस अवसर पर प्राचार्य डॉ. विकास रंजन मणि त्रिपाठी, अमित श्रीवास्तव, मोहन पाण्डेय, मनीषा जायसवाल आदि मौजूद रहे।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button