लड़की हूं, लड़ सकती हूं को लेकर मजाकिया अंदाज मे प्रिंयका ने कही कुछ ऐसी बात

स्टार एक्सप्रेस डिजिटल :  यूपी के चित्रकूट में मंदाकिनीकी धारा में बने मंच से बुंदेलखंड की महिलाओं के साथ कांग्रेस की यूपी प्रभारी एवं राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गांधी ने संवाद किया। योगी सरकार पर हमला बोलने के साथ विधानसभा चुनाव से लेकर लोकसभा चुनाव तक की प्लानिंग बता डाला। प्रियंका गांधी ने कहा कि उनकी पार्टी लोकसभा चुनाव में आधे टिकट महिलाओं को देगी। विधानसभा चुनाव में उन्होंने 40 टिकट महिलाओं को देने का ऐलान पहले ही कर दिया था। इसके बेहतर परिणाम आएंगे। उन्होंने भाजपा सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि मंत्री का बेटा किसानों को रौंद देता है और मंत्री अब तक सरकार में है।लड़की हूं, लड़ सकती हूं नारे के बारे में बोलते हुए उन्होंने हंसी-मजाक भी किया। कहा इसका मतलब यह नहीं कि आप घर में जाके पति से ही लड़ जाइए। ऐसे तो आपके पति मुझसे नाराज हो जाएंगे। महिलाएं अपने हक के लिए लड़ें। लखनऊ में मुझसे मिलने एक आशा बहू आई थी। उसे पुलिस ने पीटा। कितनी मजबूत थी वह। उसने कहा-मैं नहीं डरूंगी।

 

उन्होंने कहा कि अब राजनीति में क्रूरता व हिंसा बढ़ गई है। इसकी जिम्मेदार मौजूदा सरकारें हैं। भय का माहौल बनाया जा रहा है। महिलाओं को मजबूत होना है तो उन्हें राजनीति में सक्रिय होना पड़ेगा। कांग्रेस लोस चुनाव में आधे टिकट देने के साथ महिलाओं का हर मोर्चे पर साथ देगी। महिलाओं में करुणा होती है। उनके राजनीति में आने से शुचिता का माहौल बनेगा। महिलाएं महिलाओं के बारे में सोचेंगी। उनके लिए उपयोगी नीतियां बनाएंगी। जैसे परिवार को संभालती हैं, वैसे देश को संभालेंगी। कांग्रेस सरकार बनी तो कोरोना काल में परेशान किसानों के बिजली बिल आधे किए जाएंगे। उस अवधि में जिन व्यापारियों ने बिना उपभोग के बिजली के बिल जमा किए हैं, वह माफ करेंगे।

मंदाकिनी की धारा पर कतार में खड़ी नावें और उस पर बना करीब सौ फीट लंबा मंच। उप्र की तरफ के तट पर कांग्रेस के पुरुष कार्यकर्ताओं की भीड़ और मप्र की तरफ के तट पर महिलाओं की भीड़। पूजा-अर्चना करके मंदाकिनी तट पर प्रियंका पहुंचीं तो महिलाओं में उत्साह था। जिंदाबाद के नारों के बीच प्रियंका मंच तक पहुंचीं तो उत्साह देर तक गूंजी तालियों में प्रकट हुआ। संवाद की शुरुआत प्रियंका ने लड़की हूं, लड़ सकती हूं से की तो यह उत्साह जोश में बदल गया।

मत्स्यगयेन्द्र नाथ मंदिर में पूजा करके संवाद में आईं प्रियंका ने महिलाओं की मजबूती के लिए काम का दावा करते हुए धार्मिक संकेतों का इस्तेमाल किया। उन्होंने कहा, सुनो द्रोपदी शस्त्रत्त् उठा लो, अब गोविंद न आएंगे। फिर पूछा-मैं क्यों कह रहीं हूं? इसलिए लिए कि महिलाओं की सरकारें नहीं सुन रही हैं। अब उन्हें अपनी आवाज खुद उठानी होगी। अपनी रक्षा खुद करनी होगी।

प्रियंका ने लड़की हूं.. नारे को बुंदेलखंड की गौरवगाथा से भी जोड़ा। कहा-यह धरती रानी लक्ष्मीबाई, झलकारी देवी की है। वे भी अपने हक के लिए लड़ीं। वही मैं भी कह रही हूं। जब सरकार नहीं सुनती तो खुद लड़ना होगा। नारी कब तक जुल्म सहेगी। प्रदेश की स्थिति बहुत खराब है। महिला शक्ति को सरकार ने नहीं पहचाना है। पानी नहीं है। एक हैंडपंप में दस-दस परिवार पानी के लिए खड़े रहते है। उन्होंने कहा कि अपना हक लड़ कर लेना होगा। कैसी रक्षा मांग रही हो दु:शासन दरबारों… । खुद को मजबूत करो। हम आपके साथ हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button