आजमगढ़ का नाम बदलने को लेकर योगी सरकार पर अखिलेश यादव का करारा हमला

स्टार एक्सप्रेस डिजिटल  : यूपी विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022) पास आते ही सियासी दलों ने आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति शुरू कर दी है। वहीं बीजेपी नाम बदलने की सियासत पर लगी हुई है। एक दिन पहले आजमगढ़ पहुंचे सीएम योगी ने शहर का नाम बदलने के संकेत दिए थे। अब इस पर अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) हमलावर हैं। आजमगढ़ का नाम बदले जाने पर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बीजेपी पर करारा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि जब तक बीजेपी तख्ती पर नया नाम लिखवाएगी, इसके सूखने से पहले ही सपा सरकार आ जाएगी। जिसके बाद फिर से नाम बदल दिया जाएगा।अखिलेश यादव ने योगी सरकार (Yogi Government) पर हमला बोलते हुए कहा कि बीजेपी ने उत्तर प्रदेश बर्बाद कर दिया है। उन्होंने कहा कि जो काम सपा ने 5 साल पहले करके छोड़ दिए थे वही काम बीजेपी आज भी कर रही है। सपा अध्यक्ष ने कहा कि बीजेपी सपा सरकार से पांच साल पीछे चल रही है। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि जो सरकार कोरोना काल में आजमगढ़ (Azamgarh) को ऑक्सीजन प्लांट तक न दे सकी वो यूपी का विकास क्या ही करेगी। सपा अध्यक्ष ने कहा कि सपा ने कोरोना काल में लाखों मजदूरों की मदद की थी। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि बीजेपी सपा सरकार में बनाए गए एक्सप्रेसवे का उद्घाटन कर रही है।

अखिलेश यादव ने बीजेपी पर पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे में क्लालिटी से समझौता करने का आरोप लगा दिया उन्होंने कहा कि रबड़ मिक्स विटामिन से एक्सप्रेसवे बनाया गया है। इसकी वजह से इसकी क्वालिटी गिर गई है। सपा अध्यक्ष ने कहा कि उन्हें एक्सप्रेसवे का उद्घाटन करने की अनुमति नहीं है इसीलिए वह 16 नवंबर को सांकेतिक रूप से फूल चढ़ाकर इसका उद्घाटन करेंगे। इसके साथ ही उन्होंने एक्सप्रेस-वे को आधा-अधूरा बताया। पूर्वांचल के लोगों को आधे अधूरे एक्सप्रेस-वे की शुरुआत के लिए अखिलेश यादव ने बधाई दी। साथ ही उन्होंने वादा किया कि यूपी में सपा सरकार आते ही एक्सप्रेस-वे के किनारे मंडियां बनाई जाएंगी।

अखिलेश यादव ने पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे में एक के बाद एक कई कमियां गिनवाईं। उन्होंने कहा कि इसे ऐसे बनवाया गया है कि अगर वाहन की स्पीड बढ़ा दी जाए तो आपके शरीर में दर्द होने लगेगा। अखिलेश ने कहा कि इस एक्सप्रेस-वे की शुरुआत सपा सरकार में हुई थी। लेकिन फिर भी उन्हें एक्सप्रेस-वे पर जाने की परमिशन नहीं दी। उन्होंने कहा कि इसके लिए सपा के गाजीपुर से सीनियर नेता डीएम से भी मिले थे। लेकिन फिर भी सपा के लोगों को वहां जाने की परमिशन नहीं दी गई।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button