Breaking News

ऊर्जा संकटऔर बढ़ते प्रदूषण के दौर में साइकिल को प्रोत्साहित करना आवश्यक-मुख्यमंत्री

लखनऊ:(स्टार एक्सप्रेस)
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा कि गांधी जी ने भारत को आजाद कराने में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। उन्होंने अहिंसा व ईमानदारी का जो पाठ पढ़ाया, वह आज के जीवन में अत्यधिक प्रासंगिक है। उन्होंने हमेशा सादा जीवन जीने एवं उच्च विचार अपनाने की शिक्षा दी। वर्तमान सरकार उनके इस विचार को आगे बढ़ाने के लिए लगातार प्रयासरत है।
मुख्यमंत्री शुक्रवार को जनेश्वर मिश्र पार्क में गांधी जयंती के अवसर पर खेल-खिलाड़ी उत्थान संस्थान व चैम्पियंस साइकिलिंग क्लब के तत्वावधान में आयोजित साइकिल रेस-2015 के अवसर पर अपने विचार व्यक्त कर रहे थे। उन्होंने कहा कि साइकिल एकता, स्वास्थ्य व पर्यावरण का प्रतीक है। उन्होंने लोगों को इसके प्रति जागरूक करने की आवश्यकता पर बल दिया। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार साइकिल को बढ़ावा देने के लिए लगातार कार्य कर रही है। इसके तहत गुरूगोविन्द सिंह स्पोटर््स काॅलेज, लखनऊ में एक वेलोड्रोम का निर्माण कराया जा रहा है। इसके बन जाने से प्रदेश के साइकिलिस्ट भी देश-विदेश में अपनी प्रतिभा दिखा सकेंगे।
  मुख्यमंत्री ने लखनऊ के जनेश्वर मिश्र पार्क का जिक्र करते हुए कहा कि यह पार्क सिटी के लंग्स (फेफड़े) के रूप में जाना जाता है, जहां पर हमें भरपूर मात्रा में आॅक्सीजन प्राप्त होती है। उन्होंने कहा कि साइकिल जीवन में बेहतर संतुलन बनाकर चलने की सीख देती है। उन्होंने कहा कि गरीब, किसान, मेहनतकश, नौजवान और छात्र के लिए यह आवागमन का सबसे सस्ता साधन है। उन्होंने कहा कि ऊर्जा संकट तथा बढ़ते प्रदूषण के वर्तमान दौर में साइकिल को प्रोत्साहित करना आवश्यक है। साइकिल सेहत के नज़रिए से भी एक उपयोगी सवारी है। इसके दृष्टिगत, उत्तर प्रदेश की समाजवादी सरकार ने साइकिल व साइकिलिंग को बढ़ावा देने के लिए अनेक कदम उठाए है। इसी के तहत कई शहरों में साइकिल ट्रैक्स का निर्माण भी कराया गया है। यादव ने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार ने लखनऊ और आगरा को साइकिल फ्रैण्डली नगर के तौर पर विकसित करने का निर्णय लिया है। इसी के साथ लखनऊ में साइकिल टैªक का निर्माण भी कराया जा रहा है, जिससे आमजन को काफी सुविधा मिलेगी और वे इसके प्रति आकर्षित होंगे। 
इस मौके पर मुख्यमंत्री ने साइकिल रेस-2015 के विजेताओं को पुरस्कृत भी किया। इस साइकिल रेस में बालक व बालिकाओं ने प्रतिभाग किया। बालक वर्ग में प्रथम स्थान पाने वाले आलम खां को 21 हजार रु0, द्वितीय स्थान पाने वाले रवि यादव को 11 हजार रु0 व तीसरा स्थान पाने वाले श्री अमनदीप सिंह को 5,100 रु0 का चेक प्रदान किया गया। वहीं बालिका वर्ग में प्रथम स्थान पाने वाली सोनाली सिंह को 21,000, द्वितीय स्थान पाने वाली दीपाली सिंह को 11,000 व तीसरा स्थान पाने वाली दिव्या सिंह को 5,100 रु0 का चेक प्रदान किया गया। इसके अलावा बालिकाओं में नेहा सिंह सोनाली सिंह व जानकी साहू को सांत्वना पुरस्कार तथा बालकों में अमरेन्द्र चन्द्र, श्री मो0 सुहैल व श्री मुलायम यादव को एक-एक साइकिल प्रदान की गई। खेल-खिलाड़ी उत्थान संस्थान के प्रमुख अनुराग बाजपेयी ने मुख्यमंत्री का स्वागत फूलों से बनी एक साइकिल भेंट कर किया। 
इससे पूर्व, व्यवसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास राज्य मंत्री अभिषेक मिश्र ने प्रतियोगिता का झण्डी दिखाकर शुभारम्भ किया। यह प्रतियोगिता बालकों के लिए 12 कि0मी0 व बालिकाओं के लिए 05 कि0मी0 की थी।
कार्यक्रम में राजनैतिक पेंशन मंत्री राजेन्द्र चैधरी, खेल निदेशक आर0पी0 सिंह, यूनियन बैंक के महाप्रबन्धक एल0डी0 रेवतकर सहित बड़ी संख्या मे लोग मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *