11 नवंबर : कन्या समेत इन राशि वालों का मन रहेगा परेशान, जानें आपकी राशि मे क्या लिखा है

स्टार एक्सप्रेस डिजिटल

ग्रहों की स्थिति-राहु वृषभ राशि में हैं। सूर्य, बुध, मंगल तुला राशि में हैं। केतु वृश्चिक राशि में हैं। शुक्र धनु राशि में हैं। शनि, गुरु और चंद्रमा मकर राशि में चल रहे हैं। दोनों अग्नि तत्‍व सूर्य और मंगल तुला राशि में हैं। इससे जो परस्‍पर सम्‍बन्‍ध हैं वे थोड़े कलहकारी चल रहे हैं।

राशिफल

मेष-अभी किसी भी ढंग की कोई नई व्‍यवसायिक स्थिति न शुरू करें। कोर्ट-कचहरी में फूंक-फूंककर कदम रखें। पिता के स्‍वास्‍थ्‍य पर ध्‍यान दें। आपको भी सीने में विकार हो सकता है। यदि किसी भी तरीके से जीवनसाथी के साथ कोई मतभेद कोर्ट-कचहरी में चल रहा है तो बचाकर चलें। मुश्किल की आशंका है। संतान और प्रेम में भी थोड़ी कड़वाहट दिख रही है। शनिदेव की अराधना करते रहें।

वृषभ-शत्रुओं पर दबदबा आपका कायम है। स्‍वास्‍थ्‍य पहले से बेहतर है। प्रेम और व्‍यापार की स्थिति भी पहले से काफी अच्‍छी है लेकिन अपमानित होने का डर है। मां काली की अराधना करते रहना अच्‍छा होगा।

मिथुन-इस समय स्थिति बहुत अच्‍छी नहीं है। थोड़ा ध्‍यान देकर चलें। अंतिम खराब समय है। बहुत जल्‍दी बहुत अच्‍छी स्थिति में आ जाएंगे। इस समय अष्‍टम भाव में गुरु, चंद्रमा और शनि अनहोनी की तरफ इशारा करते हैं। अभी थोड़ा खराब समय है, बचकर पार करें। स्‍वास्‍थ्‍य और व्‍यापार दोनों ही ठीक नहीं है। संतान और प्रेम की स्थिति बहुत अच्‍छी है। पीली वस्‍तु का दान करना और शनिदेव की अराधना करना आपके लिए बहुत अच्‍छा रहेगा।

कर्क-घरेलू जीवन इस समय बाधित रहेगा। भौतिक सुख-संपदा में कोई न कोई परेशानी बनी रहेगी। मां के स्‍वास्‍थ्‍य पर भी दिक्‍कत है। घर का तापमान थोड़ा बढ़ा रहेगा। जीवनसाथी के स्‍वास्‍थ्‍य पर ध्‍यान दें। कोई नई शुरुआत न करें। भगवान भोलेनाथ की अराधना करें। उनका जलाभिेषेक करें। अच्‍छा रहेगा।

सिंह-पराक्रमी बने हुए हैं। बड़ी ताकत आ गई है आपमें, खासकर व्‍यवसायिक ताकत, शत्रुओं पर दबदबा आपका कायम है। प्रेम और व्‍यापार की स्थिति भी काफी अच्‍छी है। थोड़ा डिस्‍टर्ब रहेंगे आप लेकिन सारी चीजें आपके पक्ष में हैं। सूर्यदेव को जल देते रहें।

कन्‍या-मन परेशान है। नकारात्‍मक उर्जा की ओर आप ज्‍यादा सोच रहे हैं, आकर्षित भी हो रहे हैं। डिस्‍टर्बिंग फेज ये कहा जाएगा। स्‍वास्‍थ्‍य ठीक है लेकिन प्रेम, व्‍यापार, संतान की स्थिति बहुत अच्‍छी नहीं है। थोड़ा ध्‍यान दें। शनिदेव की अराधना करते रहें।

तुला-उद्ध‍िग्‍नता है। क्रोध बढ़ा हुआ है। मन-मस्तिष्‍क साथ नहीं दे रहा है। संतान को लेकर भी मन परेशान है। व्‍यापार धीरे-धीरे ठीक हो जाएगा लेकिन मन परेशान रहेगा। व्‍यापार धीरे-धीरे ठीक हो जाएगा लेकिन थोड़ा वक्‍त लगेगा। शनिदेव की अराधना करते रहें।

वृश्चिक-पराक्रम रंग लाएगा। सरकारी तंत्र से लाभ हो रहा है। भाइयों, मित्रों के साथ की वजह से व्‍यापारिक लाभ ले रहे हैं। प्रेम और संतान की भी स्थिति अच्‍छी है। एक अच्‍छा समय कहा जाएगा। सूर्यदेव को जल अर्पित करते रहें।

धनु-वाणी पर नियंत्रण रखें। निवेश बिल्‍कुल न रखें। जुआ, सट्टा, लॉटरी में पैसे न लगाएं। किसी के साथ लेनदेन न करें नहीं तो पैसे डूब जाएंगे। स्‍वास्‍थ्‍य ठीक है लेकिन मुख रोग के शिकार हो सकते हैं। प्रेम और व्‍यापार की स्थिति काफी अच्‍छी चल रही है। सूर्यदेव को जल अर्पित करते रहें।

मकर-उतार-चढ़ाव बना रहेगा। बहुत जल्‍द निराशा का भाव, उससे उबरना फिर निराश हो जाना, चलता रहेगा। स्‍वास्‍थ्‍य नरम-गरम, प्रेम और व्‍यापार अभी नरम-गरम ही रहेगा। बहुत जल्‍द आप अच्‍छी स्थिति में आने वाले हैं। मां काली की अराधना करते रहें।

कुंभ-अत्‍यधिक और नकारात्‍मक सोच के शिकार होंगे। साझेदारी में समस्‍या हो सकती है। स्‍वास्‍थ्‍य मध्‍यम रहेगा। व्‍यापार और प्रेम सही है आपका। गणेश जी की अराधना करते रहें।

मीन-आर्थिक मामले सुलझेंगे। यात्रा थोड़ी कठिन होगी। प्रेम मध्‍यम रहेगा। व्‍यापार पहले से बेहतर रहेगा। भगवान शिव की अराधना करते रहें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button