सीएम योगी आज शाहजहांपुर और बदायूं के दौरे पर, जानिए मुख्यमंत्री का मिनट टू मिनट कार्यक्रम

स्टार एक्सप्रेस डिजिटल : उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव नजदीक हैं। ऐसे में सभी पार्टियों भी चुनावी तैयारियों में जुट चुकी है। वहीं दौरों का कार्यक्रम भी शुरू हो गया है। इसी कड़ी में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार यानी आज शाहजहांपुर और बदायूं दौरे पर आएंगे। इस दौरान वह तीन जनसभाओं को सम्बोधित करेंगे।

10 :05 पर लखनऊ से प्रस्थान करेंगे।
10:50 पर बदायूँ (सहसवान) पहुंचेंगे।
10:55 पर हैलीपैड स्थल से कार्यक्रम स्थल (प्रमोद इंटर कॉलेज) के लिए रवाना होंगे।
11:00 बजे बदायूं में कार्यक्रम स्थल पर पहुंचेंगे।
11:00 बजे से 12:00 बजे तक कार्यक्रम स्थल पर रहेंगे और जनपद की विभिन्न 1127.80 करोड़ की 359 परियोजनाओं का लोकार्पण भी करेंगे और जनसभा को संबोधित करेंगे।
12:05 पर हैलीपैड पर पहुंचेंगे और शाहजहांपुर के लिए प्रस्थान करेंगे।

 

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का शाहजहांपुर में मिनट टू मिनट कार्यक्रम

शाहजहांपुर में बदायूं से हेलीकॉप्टर से आएंगे और 12 : 10 बजे जलालाबाद के काकोरी शहीद इंटर कॉलेज में पहुंचेंगे।
मुख्यमंत्री जलालाबाद के काकोरी शहीद इंटर कॉलेज के मैदान पर दोपहर 12:15 बजे विभिन्न परियोजनाओं और विकास से जुड़े कार्यो का लोकार्पण और शिलान्यास करेंगे।
दोपहर में 12:30 बजे जनसभा को सम्बोधित करेंगे।
शाहजहांपुर के बरेली मोड़ पर मुख्यमंत्री हैलीपेड पर दोपहर 1:40 बजे पहुंचेंगे।
वहां से आवास विकास स्थित विशन चन्द्र सेठ की प्रतिमा का अनावरण दोपहर 1:50 पर करेंगे।
इसके बाद कार द्वारा खिरनीबाग मैदान में दोपहर 2:30 बजे सभा को सम्बोधित करेंगे।
उसके बाद शाहजहांपुर पुलिस लाइन से हैलीपेड से दोपहर 3:40 बजे लखनऊ के लिए प्रस्थान करेंगे।
लखनऊ में मुख्यमंत्री शाम 7:30 बजे उत्तरखंड दिवस पर उत्तराखंड महोत्सव की शुरुआत करेंगे।

बदायूं में कुल 6 विधानसभा सीट हैं-जिनमें पांच विधानसभा सीटों पर बीजेपी काबिज है,वहीं सहसवान विधानसभा सीट पर समाजवादी के विधायक ओमकार सिंह हैं।

बदायूं- महेश गुप्ता(बीजेपी)
बिसौली- कुशाग्र सागर(बीजेपी)
बिल्सी- आर.के शर्मा(बीजेपी)
दातागंज- राजीव सिंह उर्फ बब्बू भैय्या(बीजेपी)
शेखूपुर- धर्मेंद्र शाक्य(बीजेपी)
सहसवान-ओमकार सिंह यादव(समाजवादी)
बीजेपी के लिए क्यों जरुरी है सहसवान सीट ?

सहसवान सीट हमेशा समाजवादी का गढ़ रही है,और यहाँ हमेशा समाजवादी पार्टी का वर्चस्व रहा है। देश में जब मोदी लहर थी तब बदायूँ की 6 विधानसभा सीटों में से 5 विधानसभा सीटों पर भारतीय जनता पार्टी ने जीत हासिल की थी, मगर सहसवान विधानसभा सीट पर मोदी लहर के बावजूद समाजवादी के ओमकार सिंह विधायक चुने गए।  इस बार सहसवान विधानसभा सीट को मजबूती प्रदान करने के लिए खुद उत्तर-प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को आना पड़ रहा है। अब देखना है कि योगी के दौरे का कितना जादू इस सीट पर चलेगा और भारतीय जनता पार्टी क्या समाजवादी के गढ़ सहसवान में अपनी सेंध लगा पाएगी।

शाहजहांपुर में कुल 6 विधानसभा सीटें हैं। शाजहांपुर की 6 सीटों में पांच पर बीजेपी का कब्ज़ा है तो वहीं 1 पर सपा ने जीत दर्ज की थी। शाजहांपुर प्रदेश का ऐसा जिला जहां से कई बड़े दिग्गजों ने लंबी राजनीतिक पारियां खेलीं। जब नेताओं का नाम लिया जाएगा तो उसमें सबसे पहले नाम आता है कुंवर जीतेंद्र प्रसाद का। वही एक ऐसे नेता थे जिनकी हनक सभी पार्टियों में होती थी। उनके बाद उनके बेटे जितिन प्रसाद ने राजनीतिक सीखा और राजनीतिक विरासत को आगे बढ़ाते हुए बीजेपी ज्वाइन की और अब प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री हैं। बीजेपी के कद्द्वार नेता मंत्री सुरेश खन्ना भी शाजहांपुर से ही हैं और आज मुख्यमंत्री शाहजहांपुर विधानसभा सीट पर जनसभा करेंगे।

2017 में सपा के शरद वीर सिंह चुनाव जीते थे बसपा के नीरज मोर्या दूसरे स्थान पर रहे थे। वहीं बीजेपी के मनोज कश्यप तीसरे स्थान पर रहे थे। 2012 में यहां से बसपा के नीरज मौर्य जीत थे और सपा के शरद वीर सिंह हारे थे। 2007 में बसपा के नीरज मौर्य जीते थे और समाजवादी पार्टी के राममूर्ति सिंह वर्मा हारे थे। वहीं 2002 चुनाव में सपा के शरद वीर सिंह की जीत हुई थी जबकि बहुजन समाज पार्टी के के. पी .सिंह यादव हारे थे।

कटरा विधानसभा सीट-भाजपा के वीर विक्रम सिंह प्रिंस जीते थे और सपा के राजेश यादव दूसरे नंबर पर रहे थे।
तिलहर विधानसभा सीट से बसपा को छोड़कर बीजेपी में शामिल हुए के रोशनलाल वर्मा तीसरी बार यहां से चुनाव जीते थे। कांग्रेस के जितिन प्रसाद दूसरे स्थान पर रहे थे।
पुवायां विधानसभा सीट से बीजेपी के चेतराम पासी चुनाव जीते थे दूसरे स्थान पर सपा की शकुंतला देवी रही थी।
शाहजहांपुर विधानसभा सीट से बीजेपी के टिकट पर सुरेश कुमार खन्ना लगातार सातवीं बार चुनाव जीते थे।  दूसरे स्थान पर समाजवादी पार्टी के तनवीर खां रहे थे।
विधानसभा सीट से बीजेपी के मानवेंद्र सिंह चुनाव जीते थे। दूसरे स्थान पर सपा के राममूर्ति सिंह वर्मा रहे थे। जिनकी मृत्यु के बाद अब वहां से उनके पुत्र राजेश वर्मा चुनाव लड़ सकते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button