सीएम योगी ने दी चेतावनी, कहा-गोली चलाई तो छाती पर मारेंगे गोली, दूसरे लोक की यात्रा करा देंगे

स्टार एक्सप्रेस डिजिटल : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सोमवार को पश्चिमी यूपी के कैराना पहुंचे। पिछली सरकार के दौरान पलायन के कारण चर्चित हुए कैराना में सीएम योगी ने बिना नाम लिये ही अखिलेश यादव और समाजवादी पार्टी पर जमकर हमले किये। मुजफ्फरनगर दंगे की याद दिलाते हुए कहा कि मुख्यमंत्री आवास में दंगाइयों को सम्मानित किया जाता था।सीएम योगी ने कहा कि पिछले साढ़े चार साल में हमने इस तरह का माहौल बना दिया, जिससे अपराधी सिर उठाकर चलने के लायक भी नहीं रह गया है। जिसने भी व्यापारियों या निर्दोष लोगों पर गोली चलाई उसकी छाती में गोली मारकर दूसरे लोक की यात्रा करा दी। उन्होंने चेताया कि दंगा किया तो दंगाइयों की आने वाली पीढ़ियां भुगतेंगी।

सीएम योगी ने कहा कि कैराना के लोगों को पलायन के लिए मजबूर करने वाले स्वयं पलायन कर गए। किसी माफिया-अपराधी की हिम्मत नहीं रही कि वह सिर उठाकर सड़कों पर चल सके। जिसने भी व्यापारी पर गोली चलाई, उसी गोली ने अपराधी की छाती को भेंदते हुए उसे दूसरे लोक में भेज दिया। योगी ने चेताया कि जो भी अराजकता करने की कोशिश करेगा, दंगा करेगा, उसकी आने वाली पीढि़यां भूल जाएंगी कि कैसे दंगा होता है।

 

योगी ने कहा कि जिन लोगों के लिए वोट बैंक सर्वोपरी है, वह लोग मुजफ्फरनगर के दंगाइयों को सम्मानित करते थे। जब मुजफ्फरनगर में दो निर्दोष मारे जाते हैं तो लोगों को जाति नहीं दिखती थी। जब जवाहरनगर में हिन्दुओं के घर जलाए जाते थे, ये जातिवाद की राजनीति करने वालों को जाति नहीं दिखाई दी।

योगी ने कहा कि पिछली सरकार में हमारे जनप्रतिनिधियों के खिलाफ झूठे मुकदमे दर्ज किये जाते थे। उन्हें जेल में डाल देते थे और दंगाइयों को सीएम आवास पर बुलाकर सम्मानित किया जाता था। लेकिन अब कानून को हाथ में लेने की किसी को इजाजत नहीं है। किसी ने इससे खिलवाड़ किया तो उसे पता है कि किस लोक की यात्रा पर निकलना है। जिसने कैराना में लोगों को पलायन के लिए मजबूर किया, खुद पलायन कर गए। कैराना में सीएम योगी ने पीएसी बटालियन स्थापना के लिए भी शिलान्यास किया। कहा कि पीएसी का डंडा चलेगा तो बड़े से बड़ा अपराधी दूसरे लोक की यात्रा करता दिखाई देगा

 

सीएम योगी ने कहा कि जब मुजफ्फरनगर में दंगा होता है तो कुछ लोग खुश होते हैं, कैराना से पलायन पर खुश होते हैं। तालिबान के शासन पर नारे लगाते हैं, तालिबानी मानसिकता नहीं चलने देंगे। तालिबानी मानसिकता बहन-बेटियों का जीवन नारकीय बनाता है। जो लोग मजहबी जुनून के साथ जीते हैं, उसको यूपी की धरती में स्वीकार नहीं करेंगे।

सीएम योगी ने कहा कि ये धर्म चक्र है। इसे मोदी जी ने घुमा दिया है। जो लोग कल तक मंदिर जाने से कतराते थे, आज मंदिर जाकर इतना बड़ा टीका लगाते हैं, जैसे सबसे बड़े यही हिन्दू हैं। 2014 में आपने मोदी जी पर भरोसा किया। उन्होंने बिना भेदभाव सभी के विकास का काम किया। आपने 2017 में भाजपा को वोट दिया। प्रदेश ने साढ़े चार साल में कैसे सरकार चलनी चाहिए यह भी करके दिखा दिया।

योगी ने कहा कि पहले सरकारें अपने और अपने परिवार-खानदान के लिए चलती थीं। पहले चेहरा देखकर नौकरियां लगती थीं। अब कैराना और मुजफ्फरनगर के नौजवानों की भी बिना भेदभाव के नौकरी लगती है। पहले नौजवानों को नौकरी की बात पर पूरा खानदार वसूली पर निकल पड़ता था। विकास का मतलब एक परिवार होता था। कोई सुविधा नहीं मिलती थी।

सीएम योगी ने अपनी और मोदी सरकार की उपलब्धियां गिनाईं। बताया कि किसानों के लिए तमाम राहत वाले कार्य किये गए हैं। योगी ने कहा किसानों को सम्मान राशि दी जा रही है। सपा-बसपा की सरकार में कभी ऐसा नहीं हुआ। किसानों के हित में कोई काम नहीं किया गया। आज जिन कार्यों का लोकार्पण और शिलान्यास किया जा रहा है, वैसे पहले कभी नहीं हुआ।

इससे पहले सीएम योगी ने कैराना वापस आए कुछ परिवारों से मुलाकात की। मुलाकात के बाद कहा कि 2017 के बाद अपराध और अपराधियों के प्रति जीरो टॉलरेंस की नीति के तहत सरकार ने जो कार्रवाई की उसके परिणामस्वरूप इस कस्बे में शांति आई, बहुत सारे परिवार वापस आए हैं। मैंने कुछ उन परिवारों के साथ संवाद किया जो पिछली सरकारों के राजनीतिक अपराधीकरण के शिकार हुए थे। कहा कि 1990 के दशक के शुरू में राजनीतिक अपराधिकरण और पेशेवर अपराधियों के राजनीतिकरण का दु​ष्परिणाम कैराना और कांधला जैसे कस्बों ने झेला। यहां हिन्दू व्यापारी और अन्य हिन्दुओं को व्यापक पैमाने पर प्रताड़ित करके यहां से पलायन करने के लिए मज़बूर किया गया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button