Breaking News

चुनाव के दौरान भारी पड़ी कमलनाथ की नाराजगी, 24 घंटे के भीतर लिया ये बड़ा फैसला

सत्ता परिवर्तन के साथ ही प्रदेश के प्रशासनिक अमले में भी परिवर्तन देखने को मिलता है। कुछ ऐसा ही मध्य प्रदेश में देखने को मिला है। प्रदेश में मुख्यमंत्री पद संभालने के बाद कमलनाथ ने 24 घंटे के भीतर 2001 बैच के आईएएस अधिकारी का तबादला कर दिया। रीवा के कमिश्नर महेंशचंद्र चौधरी का कमलनाथ ने तबादला कर दिया और उनकी जगह पर शहडोल संभाग के कमिश्नर आईएएस अधिकारी जेके जैन तैनात किया गया है। वहीं छिंदवाड़ा के एसपी अतुल सिंह का भी कमलनाथ ने स्थानांतरण कर दिया। भोपाल एसपी रेल मनोज राय को छिंदवाड़ा का नया एसपी बनाया गया है।


दो आला अधिकारियों पर गिरी गाज
कमलनाथ ने प्रदेश की कमान संभालते हुए पहला प्रशासनिक फेरबदल करते हुए दो आला अधिकारियों को तबादला किया है। जानकारी के अनुसार 2014 में महेशचंद्र चौधरी छिंदवाड़ा के डीएम थे, इस दौरान उन्होंने कमलनाथ के शिकारपुर स्थित आवास पर दस्तक दी थी। जिसके बाद उनकी कमलनाथ के समर्थकों से बहस भी हुई थी। सूत्रों की मानें तो उस वक्त कमलनाथ ने तत्कालीन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से कहकर चौधरी का तबादला कराया था।

विधानसभा चुनाव के दौरान आए थे चर्चा में

महेशचंद्र चौधरी को पहले भोपाल और बाद में जबलपुर का डीएम बनाया या था। जिसके बाद वह रीवा के कमिश्नर बनाए गए। विधानसभा चुनाव के दौरान चौधरी उस वक्त चर्चा में आए थे जब कांग्रेस के नेताओं ने उनपर पक्षपात का आरोप लगाया था। जिस तरह से चौधरी के खिलाफ कार्रवाई की गई है उसे प्रशासनिक अधिकारी विंध्य के नतीजों से जोड़कर देख रहे हैं। विंध्य में कांग्रेस को काफी नुकसान उठाना पड़ा था। ऐसे में लोकसभा चुनाव में पार्टी किसी भी तरह का जोखिम नहीं लेना चाहती है।

रीवा के डीएम से नाराज थे कमलनाथ

वहीं रीवा के कमिश्वनर के अलावा कमलनाथ ने छिंदवाड़ा के एसपी अतुल सिंह को हटा दिया है। चुनाव के दौरान उनपर भी कई आरोप लगे और शिकायत दर्ज कराई थी। अतुल सिंह की कार्यप्रणाली से कमलनाथ खुद नाराज थे, लिहाजा उनका ट्रांसफर कर दिया गया और भोपाल के एसपी रेल मनोज राय को छिंदवाड़ा का एसपी बनाया गया। माना जा रहा है कि आने वाले समय में कुछ और तबादले देखने को मिल सकते हैं। कैबिनेट सेक्रेटरी के पद को भी लेकर लगातार मंथन चल ररहा है। इस रेस में सबसे आगे 1982 बैच के आईएएस अधिकारी एसआर मोहंती का नाम चल रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *