अखिलेश के ट्वीट्स पर योगी का तंज, कहा-बबुआ ट्विटर वोट भी दे देगा

स्टार एक्सप्रेस डिजिटल  : यूपी में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव (UP Assembly Election 2022 ) के मद्देनजर सियासी माहौल तेज होने लगा है। नेताओं की एक दूसरे पर छींटाकसी, आरोप-प्रत्‍यारोप का सिलसिला भी शुरू हो गया है। इसी कड़ी में यूपी के सीएम योगी (Cm Yogi Adityanath) ने विपक्ष पर करारा हमला बोलते हुए जबरदस्‍त तंज कसा। शनिवार को भाई दूज के मौके पर सीएम योगी सपा के गढ़ इटावा पहुंचे, जहां उन्‍होंने पूर्व सीएम अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) को कटघरे में खड़ा करते हुए करारा प्रहार किया।सीएम योगी ने कहा, जो लोग संकट की घड़ी में घर के अंदर दुबक कर बैठ जाएं तो चुनाव में भी उनको घर में ही रहने की आवश्यकता है, उनको घर में ही दुबका देना। सीएम योगी ने कहा, जो संकट में आपके साथ खड़ा नहीं हो सकता है, आपके दुख में सहभागी नहीं हो सकता, वक्त आने पर उसी प्रकार जवाब देने की आवश्यकता है।

सीएम योगी ने अखिलेश पर तंज कसते हुए कहा, जो लोग ट्वीटर पर सीमित थे, उनसे कहना बबुआ ट्वीटर ही वोट भी दे देगा। कि इटावा मुलायम सिंह और अखिलेश यादव का गढ़ माना जाता है।

मुलायम के गढ़ इटावा में मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि पहले की सरकार में एक ही परिवार के बारे में सोचा जाता था, लेकिन हमारी सरकार में प्रदेश की 25 करोड़ की जनता के बारे में सोचकर काम कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के लोगों को 100 करोड़ मुफ्त टीका लगवाकर इतिहास रचा है। सीएम ने लोगों से कोरोना के टीके के बारे में पूछा तो बड़ी संख्या में लोगों ने टीका लगवाने की हाथ उठाकर हामी भरी। इस पर चुटकी लेते हुए उन्होंने कहा कि इटावा की धरती पर जन्म लेने वाले कुछ लोग टीके का विरोध कर रहे थे। इसके बाद भी आप लोगों ने इतनी बड़ी संख्या में टीके लगवाकर साबित कर दिया कि आप चुनाव में क्या करने वाले हैं।

इटावा में सीएम ने बिना किसी का नाम लिए कहा कि एक पार्टी के नेता ने एक वक्तव्य जारी किया जिसमें जिन्ना और सरदार पटेल की तुलना की. उन्होंने कहा कि सरदार पटेल देश जोड़ने वाले और जिन्ना देश को तोड़ने वाले थे। इनकी तुलना कभी नहीं हो सकती है। एक ने अगर देश को जोड़ने का काम किया था तो दूसरे ने बंटवारा करवा दिया था। सीएम योगी ने कहा कि जनता को ऐसे शर्मनाक बयानों को खारिज कर देना चाहिए। इन लोगों की मानसिकता समझिए, कैसे हैं ये लोग जो सरदार और जिन्ना को एक साथ जोड़ रहे हैं। सरदार हमारे राष्ट्रनायक हैं, जिन्ना ने तो भारत को तोड़ दिया था।

अब योगी के इस हमले पर अखिलेश ने उन्हें किताब पढ़ने और इतिहास को सही तरीके समझने की नसीहत दे डाली। लेकिन इस पर भी सीएम योगी का जवाब पहले से तैयार रहा। उन्होंने तंज कसते हुए कहा कि शुरुआती शिक्षा सही नहीं होने से लोगों को नायक और देशद्रोही में फर्क नहीं पता चलता। ये भटकाव तभी शुरू होता है जब व्यक्ति एक ही तराजू में मित्र और शत्रु को तौलने लगते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button