Breaking News

यूपी में सपा कार्यकर्ता की दर्दनाक हत्या, गला रेतने के बाद चेहरे पर डाला तेजाब

यूपी के इलाहाबाद जिला स्थित ग्रामीण इलाके मऊआइमा में पूर्व बीडीसी सदस्य व सपा कार्यकर्ता की नृशंस हत्या कर दी गई है। हत्यारों ने बेरहमी से गला रेतने के बाद चेहरे पर तेजाब डालकर जला दिया है। घटना की वजह जमीनी विवाद को बताई जा रही है। इस मामले में पुलिस ने अज्ञात लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज कर जांच-पड़ताल शुरू कर दी है।

– यूपी: पूजा करने जा रहे शख्स को कुत्ता भगाना पड़ा भारी, दबंग ने मारी गोली, दो घायल

जमीन विवाद में हत्या की पुलिस ने जताई आशंका
वारदात मऊआइमा थाना क्षेत्र के लोकापुर गांव में हुई है। रात भर गायब रहे ज्ञान चंद यादव का शव सुबह खेत में देखा गया। परिजनों ने बताया कि ज्ञानचंद देर शाम घर से यह कह कर निकला था कि पड़ोस गांव में वह पुआल लेने के लिए जा रहा है। पुलिस अब मृतक ज्ञानचंद के मोबाइल नंबर की कॉल डिटेल निकलवा रही है। साथ ही जमीनी विवाद व अन्य कारणों के एंगल की भी जांच पड़ताल कर रही है।

हत्या कर शव को फेंका खेत में

मऊआइमा थाना क्षेत्र के लोकापुर गांव के रहने वाले ज्ञान चंद यादव की कहानी बेहद ही मार्मिक है। बचपन में ही पिता की मौत हो गई जिस कारण मां ने मजदूरी कर ज्ञानचंद और उसकी दो बहनों को पाला। ज्ञानचंद बड़ा हुआ तो अब अपने दम पर उसने राजनीतिक दिशा में कदम बढ़ाना शुरू किया और पिछले पंचायत चुनाव में बीडीसी सदस्य भी चुना गया। लोगों के बीच बेहद ही मिलनसार व मददगार प्रवृत्ति के ज्ञानचंद की मौत का कारण अभी तक एक जमीन का विवाद बताया जा रहा है। पुलिस के अनुसार, पिछले 15 साल से पिलखुआ गांव में डेढ़ बीघा जमीन का विवाद दूध नाथ यादव से चल रहा था। इसी विवाद से ज्ञान चंद की हत्या को जोड़ा जा रहा है। जमीन का यह मामला न्यायालय में विचाराधीन है और इस पर फैसला भी आने वाला है। संभावना थी कि फैसला ज्ञानचंद के ही पक्ष में आने वाला था लेकिन अचानक से ज्ञान चंद की हत्या कर दी गई और उसकी लाश को खेत में फेंक दिया गया।

हर पहलू की पुलिस कर रही जांच

बचपन में अपने पिता को खोने वाले ज्ञानचंद का भी भरा पूरा परिवार है। ज्ञान चंद के कुल चार बच्चे हैं जिनमें एक बेटा व तीन बेटी हैं। घटना के बाद से पत्नी संजू देवी व मां जयराजी का रो-रोकर बुरा हाल है। पूरे परिवार के भरण-पोषण का ज्ञान चंद ही इकलौता सहारा था लेकिन अब उसकी मौत के बाद परिजनों पर दुख का पहाड़ टूट पड़ा है। इस मामले में पुलिस का कहना है कि मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और सभी एंगल से घटना की जांच-पड़ताल की जा रही हैं। जिस व्यक्ति के साथ ज्ञानचंद बाइक से गया था, उसकी भी तलाश की जा रही है। साथ ही मोबाइल की कॉल डिटेल से भी काफी कुछ स्पष्ट हो जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *