पाकिस्तान जाने की सलाह देने वाले भाजपा नेता पर भड़की समाजवादी पार्टी

स्टार एक्सप्रेस डिजिटल  : उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले राजनेताओं की जुबानी जंग अब दिनों-दिन तेज होती जा रही है। यूपी चुनाव में जिन्ना के बाद अब पाकिस्तान की एंट्री हो गई है। बस्ती से बीजेपी सांसद हरीश द्विवेदी ने समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव को पाकिस्तान जाने की सलाह दी। इसके बाद समाजवादी पार्टी और कांग्रेस ने उन्हें आड़े हाथों लिया है। समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता ने तो यहां तक कह दिया है कि वह अपना मानसिक संतुलन खो बैठें है।सपा प्रवक्ता अनुराग भदौरिया ने हरीश द्विवेदी पर पलटवार करते हुए कहा- अपना मानसिक संतुलन खो बैठे हैं उन्हें इलाज की जरूरत है। जबकि, दूसरी तरफ हरीश द्विवेदी के बयान पर कांग्रेस ने भी हमला बोला है। कांग्रेस नेता राशिद अल्वी ने कहा – बीजेपी की आदत हो गई है हर रोज किसी न किसी को पाकिस्तान भेजने की बात करते हैं।

दूसरी तरफ, अपने विवादित बयानों को लेकर अक्सर चर्चा में रहने वाले उत्तर प्रदेश के संसदीय कार्य राज्य मंत्री आनंद स्वरूप शुक्ला ने अब दावा किया है कि समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव को पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई से संरक्षण मिल रहा है। शुक्ला ने मंगलवार रात अपने आवास पर संवाददाताओं से बातचीत में अखिलेश द्वारा पिछले दिनों मोहम्मद अली जिन्ना को लेकर दिए गए कथित बयान के सिलसिले में पूछे गए सवाल पर कहा, अखिलेश को पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी आईएसआई से संरक्षण और सुझाव मिल रहे हैं. हो सकता है कि उन्हें इस संगठन से आर्थिक मदद भी मिल रही हो।

शुक्ला ने दावा किया कि अखिलेश आईएसआई के इशारे पर ही जिन्ना का महिमामंडन कर रहे हैं। इससे पहले शुक्ला ने सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर पर भी आतंकवादी संगठनों से मदद लेने का आरोप लगाया था। राजभर की पार्टी का पिछली 27 अक्टूबर को सपा के साथ गठबंधन हुआ है। प्रदेश के संसदीय कार्य राज्य मंत्री ने आरोप लगाया कि पाकिस्तान और तालिबान जो चाहते हैं अखिलेश वही बयान दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि आजाद भारत के पहले गृह मंत्री सरदार वल्लभभाई पटेल से जिन्ना की तुलना करना निंदनीय है और अखिलेश को अपने बयान को लेकर माफी मांगनी चाहिए।

बीजेपी सांसद हरीश द्विवेदी ने कहा कि अगर अखिलेश जी को हिंदुस्तान में कोई अपना हीरो नजर नहीं आता है, कोई महापुरुष नजर नहीं आता है। तो अखिलेश यादव जी को पाकिस्तान में जाकर चुनाव लड़ना चाहिए। बीजेपी सांसद ने ये भी कहा कि मैं देश और बस्ती की जनता से भी ये अपील करूंगा कि अखिलेश यादव और समाजवादी पार्टी का संपूर्ण बहिष्कार करें, क्योंकि अगर इनका बहिष्कार हो जाएगा तो इन्हें एक सबक मिल जाएगा। बीजेपी सांसद ने आगे कहा कि अखिलेश को पाकिस्तान के महापुरुषों से ही प्रेम है तो उन्हें पाकिस्तान में अपनी पार्टी बना कर चुनाव लड़ना चाहिए।

रविवार को सरदार पटेल की 146वीं जयंती के अवसर पर सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने हरदोई में एक जनसभा में कथित तौर पर कहा था कि सरदार पटेल, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, जवाहरलाल नेहरू और जिन्ना ने एक ही संस्थान से पढ़ाई की और बैरिस्टर बने तथा उन्होंने भारत को आजादी दिलाने में मदद की और संघर्ष से कभी पीछे नहीं हटे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button